uttarakhand chief minister ts rawat urges cabinet ministers to spend more time in their constituencies in state - नसीहत: सभी मंत्री ज्यादा से ज्यादा वक्त आम लोगों को दें: सीएम त्रिवेंद्र रावत DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नसीहत: सभी मंत्री ज्यादा से ज्यादा वक्त आम लोगों को दें: सीएम त्रिवेंद्र रावत

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि सभी मंत्री कोशिश करें कि वो ज्यादा से ज्यादा वक्त जनता को दें। अपने कार्यालय में भी रहें और इसके बाद आम जनता के लिए उपलब्ध रहें। गुरुवार को सचिवालय में मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने महाकुंभ की तैयारियों और मंत्रियों के कामकाज पर बात की। मालूम हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते रोज केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में मंत्रियों को नियमित रूप से दफ्तर में बैठने और जन समस्या के निस्तारण के लिए काम करने को कहा था। मीडिया ने उत्तराखंड में इस मसले पर पूछा तो मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि मंत्री और हरेक जनप्रतिनिधि का काम जन सेवा और जनसमस्याओं के निस्तारण का प्रयास करना है। मंत्रियों को दफ्तरों में बैठना चाहिए और इसके बाद भी सक्रिय रहना चाहिए। मंत्रियों को ऑन अथवा ऑफटाइम में नहीं बांधा जा सकता। हरिद्वार महाकुंभ की तैयारी पर त्रिवेंद्र बोले, इसे भव्य रूप दिया जाएगा।

मंत्रियों के दफ्तर सूने, कैंप ऑफिस गुलजार: मौजूदा समय में उत्तराखंड में मंत्रियों के विधानसभा स्थित दफ्तरों की अपेक्षा उनके घर के कैंप ऑफिस ज्यादा सक्रिय हैं। अलबत्ता, विधानसभा भवन में दफ्तर को ज्यादा वक्त देने वाले मंत्री सुबोध उनियाल आगे हैं। कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक का ज्यादा वक्त हरिद्वार और यशपाल आर्य का हल्द्वानी में बीतता है। हरक सिंह रावत, सतपाल महाराज, अरविंद पांडे समेत बाकी मंत्रियों की आमद भी ज्यादा नहीं। मंत्रियों के दफ्तर पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के समय ही गुलजार रहे हैं। तिवारी सरकार में करीब करीब सभी मंत्री ज्यादातर विधानसभा स्थित अपने दफ्तर में रहते थे।


पर्यटन पर जोर
त्रिवेंद्र बोले, पहाड़ी उत्पादों को दुनिया में पहचान दिलाएंगे

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि उत्तराखंड के पहाड़ी उत्पादों को पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बनाया जाएगा। उत्तराखंड पर्यटन राज्य है। यहां आने वाले पर्यटकों को पहाड़ी व्यंजन खूब भाते हैं। इससे हमारे पहाड़ी उत्पादों को देश-दुनिया में पहचान मिलेगी। साथ ही पारंपरिक खेती के प्रति हमारे लोग प्रेरित होंगे। मुख्यमंत्री गुरुवार को राजपुर रोड पर सरस्वती जागृति महिला स्वयं सहायता समूह की ‘पहाड़ी रसोई’ के उद्घाटन अवसर पर पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि यह प्रयास महिला सशक्तिकरण की भी मजबूत पहल है। महिला-पुरुष सशक्त होंगे तो समाज भी आगे बढ़ेगा। इस दौरान मेयर सुनील उनियाल गामा, विधायक खजानदास, मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार केएस पंवार, अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी के साथ ही सरस्वती जागृति महिला स्वयं सहायता समूह की पूजा तोमर, सुषमा और शालिनी भी मौजूद रहीं।


नीति आयोग की बैठक में मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे 
देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत शनिवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में होने वाली नीति आयोग की पांचवीं गवर्िंनग बॉडी की बैठक में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री उत्तराखंड से जुड़े विषयों पर विचार रखेंगे। इससे पहले मुख्यमंत्री ने इस बैठक से जुड़े कई विषयों पर वरिष्ठ अफसरों से विचार-विमर्श किया।


24 और 25 जून को दून में हो सकता है विस सत्र 
देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा का मानसून सत्र 24 और 25 जून को आयोजित हो सकता है। इस बारे में विधायी विभाग ने प्रस्ताव तैयार कर लिया है। सूत्रों ने बताया कि दिवंगत वित्त मंत्री प्रकाश पंत को मानसून सत्र के दौरान श्रद्धांजलि देने के साथ ही विधायी कार्य भी होंगे। यह सत्र दून 
में होने के ज्यादा आसार हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:uttarakhand chief minister ts rawat urges cabinet ministers to spend more time in their constituencies in state