DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तराखंड › Uttarakhand Board Result:कम नंबरों की न करें चिंता, मेधावी छात्रों को मिलेगा एग्जाम देने का मौका 
उत्तराखंड

Uttarakhand Board Result:कम नंबरों की न करें चिंता, मेधावी छात्रों को मिलेगा एग्जाम देने का मौका 

हिन्दुस्तान टीम, देहरादूनPublished By: Himanshu Kumar Lall
Sat, 31 Jul 2021 05:43 PM
Uttarakhand Board Result:कम नंबरों की न करें चिंता, मेधावी छात्रों को मिलेगा एग्जाम देने का मौका 

शिक्षा विभाग के नए मूल्यांकन फार्मूले की वजह से उत्तराखंड बोर्ड के करीब करीब सभी छात्र पास हो गए हैं। लेकिन जो छात्र औसत अंकों से संतुष्ट नहीं है उन्हें परीक्षा देने का मौका भी मिलेगा। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने आज रिजल्ट जारी करने के बाद सभी छात्रों को शुभकामनाएं दी। साथ ही कहा कि मेधावी छात्रों के साथ किसी भी प्रकार की नाइंसाफी नहीं होगी। यदि कोई छात्र अपने अंकों से संतुष्ट नहीं है तो उसे परीक्षा का मौका मिलेगा। इसका सरकार ने प्रावधान किया है। भविष्य में होने वाली परीक्षा में विद्यालयी शिक्षा बोर्ड आवेदन करने वाले छात्रों की उसके सभी विषयों की परीक्षा कराएगा।

इस परीक्षा में जो अंक उसे प्राप्त होंगे, उसी के आधार पर छात्र को संशोधित रिजल्ट तैयार कर दिया जाएगा। मालूम हो कि इस वर्ष हाईस्कूल की बोर्ड परीक्षा में एक लाख 47 हजार 725 छात्र शामिल हुए हैं। जबकि इंटरमीडिएट में 1 लाख 21 हजार 705 छात्रों ने परीक्षा दी है। हाईस्कूल में इस बार 99.09% तो इंटर में 99.56% विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए हैं। कोरोना संक्रमण के चलते इस बार टॉपर्स की सूची जारी नहीं की गई। दसवीं में लड़के लड़कियों से आगे रहे। संस्थागत श्रेणी में लड़कों का रिजल्ट 99.39% व लड़कियों का 98.92% रहा। व्यक्तिगत श्रेणी में बालकों का पास प्रतिशत 95.33 व बालिकाओं का 94.14% रहा।

यह भी पढ़ें:उत्तराखंड बोर्ड:10वीं में लड़के तो 12वीं में लड़कियां आगे,हॉकर की बेटी टॉपर

जबकि, दसवीं में लड़कियां आगे रही। इस बार संस्थागत श्रेणी में बालकों का 99.47% व बालिकाओं का 99.72% रहा। व्यक्तिगत श्रेणी में बालकों का रिजल्ट 97.63 व बालिकाओं का 99.23% रहा। इस बार हाईस्कूल और इंटर की बोर्ड परीक्षा में राज्यभर से ढाई लाख से अधिक परीक्षार्थी सम्मिलित हुए थे। इंटरमीडिएट में इस साल एक लाख 21 हजार 705 परीक्षार्थी सम्मलित हुए। जिनमें से एक लाख 21 हजार 171 पास हुए हैं। सम्मान सहित 20 हजार 955 व प्रथम श्रेणी में 63,901 परीक्षार्थी पास हुए हैं। वहीं, हाईस्कूल में इस साल एक लाख 47 हजार 725 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। जिनमें से एक लाख 46 हजार 386 परीक्षार्थी पाए हुए। 23 हजार 688 परीक्षार्थी सम्मान सहित उत्तीर्ण हुए हैं। 

संबंधित खबरें