ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडदिवाली पर नेशनल हाईवे में काल बनी टनल, उत्तरकाशी में 12 घंटे से ज्यादा समय से फंसी 40 जान

दिवाली पर नेशनल हाईवे में काल बनी टनल, उत्तरकाशी में 12 घंटे से ज्यादा समय से फंसी 40 जान

टनल में फंसे अधिकांश लोग झारखंड, उत्तर प्रदेश-यूपी, उड़ीसा, बिहार, पश्चिम बंगाल आदि राज्यों के रहने वाले हैं। टनल हादसे की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन भी हाई अलर्ट मोड पर आ गया है। 40 लोग फंसे हैं।

दिवाली पर नेशनल हाईवे में काल बनी टनल, उत्तरकाशी में 12 घंटे से ज्यादा समय से फंसी 40 जान
Himanshu Kumar Lallउत्तरकाशी, लाइव हिन्दुस्तानSun, 12 Nov 2023 07:58 PM
ऐप पर पढ़ें

दिवाली के शुभ अवसर पर उत्तराखंड में एक दर्दनाक टनल में हादसा हुआ है। उत्तरकाशी यमुनोत्री नेशनल हाईवे पर टनल में हादसा होने के बाद 40 लोग टनल के अंदर फंस गए हैं। चिंता की बात है कि टनल के अंदर फंसे मजूदरों की पिछले 12 घंटे से ज्यादा समय जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष जारी है।

टनल में फंसे अधिकांश लोग झारखंड, उत्तर प्रदेश-यूपी, उड़ीसा, बिहार, पश्चिम बंगाल आदि राज्यों के रहने वाले हैं। टनल हादसे की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन भी हाई अलर्ट मोड पर आ गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, ऑल वेदर रोड के लिए ऋषिकेश-यमुनोत्री नेशनल हाईवे पर टनल का निर्माण हो रहा था।

रविवार सुबह करीब 4 बजे भूस्खलन की वजह से टनल का एक हिस्सा धंस गया। टनल के धंसने की वजह से 40 मजदूर करीब 150 मीटर अंदर टनल में फंस गए। भूस्खलन के बाद सिलक्यारा की तरह से भूस्खलन हुआ है।

टनल का निर्माण कार्य 2023 तक प्रस्तावित था, लेकिन नए लक्ष्य में टनल निर्माण को मार्च 2024 तक पूरा करना था।  टनल धंसने के बाद जिला प्रशासन की टीम के साथ ही एसडीआरएफ, एनडीआरफ, आईटीबीपी, सहित फायर सर्विस की टीमें भी मौके पर मौजूद हैं।

यह भी पढ़ें:ऑल वेदर रोड पर टनल टूटने से फंसी 40 मजदूरों की जान, जानिए कब तक होना था पूरा निर्माण?

खाद्य साम्रगी को अंदर पाइप में प्रेशर देकर अंदर भेजी जा रही है।  टनल के अंदर ज्यादा मलबा आने की वजह से कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर द्वारा नई टिहरी से ड्रिल मशीन मंगाई गई है। ड्रिल मशीन की मदद से पूरा मलबा हटाने का कार्य किया जा रहा है। टर्नल के अंदर फंसे मजदूरों से अभी तक कोई सम्पर्क नही हो पा रहा है।

टनल में फंसे लोगों के लिए पाइप से ऑक्सीन सप्लाई 
निर्माणाधीन टनल में रविवार तड़के से लोग फंसे हुए हैं। किसी भी अनहोने से निपटने के लिए राहत व बचाव कार्य तुरंत ही शुय कर दिया गया था। रेस्क्यू टीम द्वारा टनल में फंसे लोगों को पाइप के माध्यम से ऑक्सीजन सप्लाई की जा रही है। सूत्रों की बातें मानें तो रेस्क्यू टीम द्वारा टनल के अंदर राशन भेजने की व्यवस्था करने में जुटी हुई है।  

डीएम उत्तरकाशी ने अधिकारियों की छुट्टियां की रद्द
उत्तरकाशी जिलाधिकारी अभिषेक रुहेला ने जिले के सभी अधिकारियों के छुट्टियां रद्द कर दी है। सभी अधिकारियों को तत्काल अपने-अपने कार्य स्थल पर रिपोर्ट करने की सख्त हिदायत दी गई है। डीएम के आदेशानुसार, अधिकारियों और कर्मचारियों को राहत एवं बचाव कार्यों के लिए चौबीसों घंटे तत्पर रहने के निर्देश दिए हैं।

टेक्निकल एक्सपर्ट की भी ले रहे सलाह 
उत्तरकाशी जिले के यमुनोत्री नेशनल हाईवे पर निर्माणाधीन टनल निर्माण के धंसने के बाद राहत व बचाव कार्य युद्धस्तर पर संचालित किया जा रहा है। टेक्निकल एक्पर्ट की राय के साथ रेस्क्यू टीम द्वारा राहत व बचाव कार्य किया जा रहा है।

टनल में फंसे लोगों को सकुशल बाहर निकालने के लिए वर्टिकल ड्रिलिंग मशीन भी इस्तेमाल में भी लाई जा सकती है। जिलाधिकारी ने बीआरओ से अभियान के तकनीकी पहलूओं पर विचार विमर्श किया।

रेस्क्यू करने में लग सकता हैं 2 से 3 तीन
निर्माणाधीन टनल में फंसे लोगों को सुरंग से बाहर निकालना कोई आसान काम नहीं होगा। टनल में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए सुरक्षित रास्ता बनाने पर कार्म किया जा रहा है। लेकिन, टनल के अंदर लगातार मलबा गिरन से  बचाव कार्यों में जुटी एजेंसियों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। 

टनल में फंसे लोगों की सूची 
नाम                     प्रदेश 

विश्वजीत कुमार     झारखंड
सुबोध कुमार        झारखंड
अनिल बेदिया        झारखंड
श्राजेद्र बेदिया        झारखंड
सुकराम               झारखंड
टिंकू सरदार         झारखंड
गुनोधर                झारखंड
रणजीत               झारखंड
रविंद्र                  झारखंड
महादेव               झारखंड
भक्तू मुर्मू             झारखंड
समीर                 झारखंड
चमरा उरॉव        झारखंड
विजय हीरो         झारखंड
गणपति              झारखंड
अंकित               उत्तर प्रदेश
राम मिलन          उत्तर प्रदेश
सत्यदेव              उत्तर प्रदेश
संतोष                उत्तर प्रदेश
जय प्रकाश         उत्तर प्रदेश
राम सुंदर            उत्तर प्रदेश
मंजीत                 उत्तर प्रदेश
अखिलेश कुमार    उत्तर प्रदेश
विशेषर नायक      ओडिशा
तपन मंडल          ओडिशा
भगवान बत्रा         ओडिशा
राजू नायक          ओडिशा
धीरेन                 ओडिशा
वीरेंद्र किसकू       बिहार
सबाह अहमद      बिहार
सोनू शाह            बिहार
सुशील कुमार       बिहार
मनिर तालुकदार   पश्चिम बंगाल
सेविक पखेरा        पश्चिम बंगाल
जयदेव परमानिक  पश्चिम बंगाल
संजय                  असम
राम प्रसाद            असम
पुष्कर                  उत्तराखंड 
गब्बर सिंह           उत्तराखंड 
विशाल               हिमाचल प्रदेश