ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडदिल्ली से चलकर यूपी के रास्ते पहुंचे पर्यटकों की फजीहत, हरिद्वार हाईवे पर 5 किमी ट्रैफिक जाम; रूट डायवर्ट 

दिल्ली से चलकर यूपी के रास्ते पहुंचे पर्यटकों की फजीहत, हरिद्वार हाईवे पर 5 किमी ट्रैफिक जाम; रूट डायवर्ट 

सप्तऋषि से ऋषिकुल तक करीब पांच किलोमीटर लंबा जाम लगा रहा। हरिद्वार-नजीबाबाद हाईवे के चंडी पुल के पास भी लंबा जाम लगा रहा है। ट्रैफिक जाम की वजह से पर्यटकों की जमकर फजीहत हुई। गाड़ियां रेंग कर चलीं।

दिल्ली से चलकर यूपी के रास्ते पहुंचे पर्यटकों की फजीहत, हरिद्वार हाईवे पर 5 किमी ट्रैफिक जाम; रूट डायवर्ट 
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तान टीमSun, 09 Jun 2024 08:00 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली-एनसीआर से चलकर यूपी के रास्ते पर्यटक स्थलों में पहुंचे टूरिस्टों को भारी ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ा। नैनीताल, कैंची धाम, हरिद्वार, मसूरी आदि पर्यटक स्थलों में कार के अंदर बैठे होने के बावजूद जाम के झाम से पर्यटकों का पसीना निकला। चारधाम यात्रा और वीकेंड के चलते हरिद्वार में रविवार को श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी।

दिल्ली-एनसीआर और यूपी के कई शहरों से पहुंचे टूरिस्टों को हरिद्वार हाईवे पर दिनभर जाम का सामना करना पड़ा। नैनीताल और कैंची धाम में भी पर्यटकों ने ट्रैफिक जाम के झंझट से परेशान होते दिखाई दिए। हाईवे पर रेंग-रेंग कर गाड़ियां आगे बढ़ीं।

सप्तऋषि से ऋषिकुल तक करीब पांच किलोमीटर लंबा जाम लगा रहा। हरिद्वार-नजीबाबाद हाईवे के चंडी पुल के पास भी लंबा जाम लगा रहा है। भारी वाहनों को रोकने के बाद भी वाहनों का दबाव हाईवे पर बना हुआ था।

इधर, हरकी पैड़ी और आसपास के गंगा घाटों पर सुबह से शाम तक स्नान करने वाले श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रही। गंगा आरती के समय हरकी पैड़ी यात्रियों से पूरी तरह पैक दिखा। दिल्ली, रुड़की से हरिद्वार आने वाले वाहनों की सबसे अधिक भीड़ रही।

स्कूलों में गर्मियों का अवकश पड़ने के बाद शनिवार और रविवार को आसपास के राज्यों से श्रद्धालु हरिद्वार पहुंच रहे है। इसके साथ ही चारधाम यात्रा के कारण पहले ही देश के अलग-अलग राज्यों से यात्री हरिद्वार पहुंच रहे हैं।  चारधाम यात्रा और वीकेंड के चलते धर्मनगरी में वाहनों का दबाव बढ़ गया है।

शनिवार के बाद रविवार को भी हरिद्वार के गंगा घाट श्रद्धालुओं और पार्किंग वाहनों से भरी रही। रविवार सुबह से ही वाहनों का दबाव के कारण हाईवे पर दिनभर जाम लग गया। चंडी चौक से शहर की ओर आने वाली सर्विस लेन को पार करने में 25 मिनट लगे, जबकि सामान्य दिनों में दो से तीन मिनट में इसे पार किया जाता है।

रानीपुर मोड से खड़खड़ी जाने में लगा 1 घंटे से अधिक समय
रानीपुर मोड से खड़खड़ी जाने में स्कूटर से एक घंटे 17 मिनट का समय लगा। जबकि सामान्य दिनों में 12 से 15 मिनट में इस सफर को तय किया जाता है। खड़खड़ी निवासी शुभम ने बताया कि सुबह 10:44 बजे रानीपुर मोड से चले थे, दोपहर 12.01 मिनट पर वह खड़खड़ी पहुंचे।

चीला मार्ग को किया बंद
हरिद्वार से ऋषिकेश जाने वाले चीला मार्ग पर भी वाहनों का दबाव बढ़ गया। चौपहिया वाहनों को रोकने के लिए पुलिस ने भीमगोड़ा बैराज के निकट चीला मार्ग पर बैरिकेटिंग लगाया है। रविवार को इस मार्ग से ऋषिकेश जाने वाले चौपहिया वाहनों को रोककर वापस भेज दिया गया।

नैनीताल में उमड़े दिल्ली-एनसीआर, यूपी के पर्यटक, भवाली से कैंची तक जाम
नैनीताल में जाम के झाम से निपटना अब सिरदर्द साबित हो रहा है। दिल्ली से चलकर यूपी के रास्ते पहुंचे पर्यटकों के गाड़ियों की बेतरतीब बढ़ती संख्या से व्यवस्थाएं फेल साबित हो रही है। रविवार को नैनीताल में बड़ी संख्या तें पर्यटक उमड़े।

जिसके चलते नैनीताल से लेकर भवाली, कैंची धाम आदि क्षेत्रों में सुबह से शाम तक जाम की स्थिति बनी रही। भवाली-अल्मोड़ा हाईवे पर वाहनों के बढ़ते दबाव के कारण खैरना और क्वारब पुलिस ने बड़े वाहनों को देर शाम तक रोके रखा।

नैनीताल शहर में रविवार को सुबह से ही पर्यटकों के बढ़ने का सिलसिला शुरू हो गया था। बगैर होटल और पार्किंग बुकिंग के आने वाले पर्यटकों को रूसी बाईपास और नारायणनगर पार्किंग में रोका गया। जिनके पास बुकिंग थी, उन पर्यटकों की संख्या भी अच्छी खासी रही।

दोपहर 12 बजे के आसपास शहर की अपर माल रोड पर भीषण जाम लग गया। वाहन कई घंटों तक रेंगकर चले। इधर, भवाली में भी सड़कें रविवार को वाहनों से पट गई। सुबह 9 बजे व्यापारियों को दुकान खोलने में भी परेशानी का सामना करना पड़ा। नैनीताल, भीमताल, रामगढ़, अल्मोड़ा रोड पर वाहन ही वाहन नजर आ रहे थे।

सीओ सुमित पांडे टीम के साथ रामगढ़ तिराहे पर जाम खुलवाते दिखे। पालिका मैदान, मस्जिद तिराहे से शटल सेवा से पर्यटकों को कैंची धाम भेजा गया। सीओ ने बताया कि सड़क किनारे बेतरतीब वाहन खड़े करने वालों की वजह से जाम की स्थिति बन रही है। टीम जाम यातायात सुचारू करने में जुटी है। किसी पर्यटक को परेशानी न हो, इसके प्रयास किए जा रहे हैं।