ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडसोशल मीडिया पर लाइक्स और व्यूज के लालच में फूंक डाला जंगल, चमोली में बिहार के 3 युवक दबोचे

सोशल मीडिया पर लाइक्स और व्यूज के लालच में फूंक डाला जंगल, चमोली में बिहार के 3 युवक दबोचे

चमोली जिले के एसपी ने कहा कि पूछताछ के दौरान तीनों आरोपियों ने बताया कि वे नाटकीय वीडियो के साथ सोशल मीडिया पर अपनी पॉपुलैरिटी बढ़ाने के लिए अधिक लाइक और फॉलोवर्स हासिल करना चाहते थे।

सोशल मीडिया पर लाइक्स और व्यूज के लालच में फूंक डाला जंगल, चमोली में बिहार के 3 युवक दबोचे
Praveen Sharmaदेहरादून। लाइव हिन्दुस्तानMon, 06 May 2024 07:25 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड की चमोली जिला पुलिस ने देहरादून से लगभग 260 किमी दूर चमोली जिले के गैरसैंण क्षेत्र के जंगल में आग लगाने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए तीनों आरोपी मूलरूप से बिहार के रहने वाले हैं। इन आरोपियों ने कथित तौर पर सोशल मीडिया पर अधिक लाइक, व्यूज और फॉलोवर्स हासिल करने के लिए जंगल में आग लगाने की घटना का वीडियो बनाकर खुद ही सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया था।

अधिकारियों ने कहा कि पुलिस ने ऑनलाइन वीडियो वायरल करने का स्वत: संज्ञान लेने के बाद शनिवार शाम को इन तीनों आरोपियों गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों की पहचान बिहार के रहने वाले ब्रजेश कुंवर, सुखलाल और सलमान के रूप में हुई है।

द टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, चमोली के पुलिस अधीक्षक (एसपी) सर्वेश पंवार ने कहा, "गैरसैंण थाना अंतर्गत आने वाले पांडुखाल गांव के वायरल वीडियो के आधार पर पुलिस ने तीन आरोपियों का पता लगाया गया और उन्हें गिरफ्तार कर लिया। मूल रूप से बिहार के रहने वाले तीनों आरोपी वहां मजदूरी करते हैं।"

एसपी ने कहा, "पूछताछ के दौरान तीनों आरोपियों ने बताया कि वे नाटकीय वीडियो के साथ सोशल मीडिया पर अपनी पॉपुलैरिटी बढ़ाने के लिए अधिक लाइक और फॉलोवर्स हासिल करना चाहते थे।"

वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि तीनों लोगों पर वन अधिनियम और भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की संबंधित धारा के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने जनता से इस तरह की गतिविधियों में शामिल होने से परहेज करने का आग्रह किया और इस बात पर जोर दिया कि जंगल में आग लगाना या इसे बढ़ावा देना एक आपराधिक कृत्य है, जिसके लिए सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। दोषी पाए जाने वाले किसी भी व्यक्ति से कानून के अनुसार सख्ती से निपटा जाएगा।