ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडमौसम को लेकर सजग रहें चारधाम यात्री, कुमाऊं मंडल और यात्रा मार्गों पर बारिश का अलर्ट 

मौसम को लेकर सजग रहें चारधाम यात्री, कुमाऊं मंडल और यात्रा मार्गों पर बारिश का अलर्ट 

उत्तराखंड में चारधाम यात्रा जोरों पर है। भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। मौसम विभाग ने कहा है कि यात्रा में जा रहे लोग मौसम के प्रति सजग रहें। ओलावृष्टि या बारिश की एक्टिविटी जानकर ही बढ़े।

मौसम को लेकर सजग रहें चारधाम यात्री, कुमाऊं मंडल और यात्रा मार्गों पर बारिश का अलर्ट 
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,देहरादूनThu, 23 May 2024 02:34 PM
ऐप पर पढ़ें

चारधाम यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए देहरादून स्थित मौसम विभाग के निदेशक डॉ. बिक्रम सिंह ने मौसम के पूर्वानुमान को लेकर एक वीडियो जारी किया है। वीडियो में उन्होंने कहा है कि पिछले 24 घंटे में अल्मोड़ा और पौड़ी में अच्छी बारिश हुई है। कई जगहों पर पांच सेंटीमीटर तक बारिश दर्ज की गई। पौड़ी में कुछ दिक्कतें भी सामने आई है।

उन्होंने कहा कि ओलावृष्टि एवं तेज बौछारें पड़ सकती है। इसीलिए गाड गदेरों में अचानक पानी बढ़ सकता है। इसको लेकर सतर्कता की जरूरत है। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा में जा रहे हैं तो मौसम के प्रति बिल्कुल सजग रहें। ओलावृष्टि या बारिश की एक्टिविटी के बाद ही आगे बढ़ें। गाड गदेरे और बरसाती नालों के आसपास न जाएं। जिस समय ओलावृष्टि या बारिश हो तो रूक जाएं।

उन्होंने कहा कि 23 एवं 24 मई को  कुमाऊं के जिलों, चारधाम में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। इसके लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। मैदानी इलाकों में हीटवेव जैसी स्थिति खत्म होंगी। इसके बाद 25 एवं 26 मई को तापमान बढ़ेंगे। उसके बाद इसमें कमी आएगी। बारिश और ओलावृष्टि से वातावरण में नमी बढ़ने से अब हीट वेव जैसी स्थिति से राहत मिली है।

उधर, राज्य के मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने कहा है कि बिना पंजीकरण चारधाम यात्रा पर आने वाले तीर्थ यात्रियों को लौटाया जाएगा। इस संबंध में सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को एडवाइजरी जारी की गई है। चारधाम यात्रा के लिए उमड़ी भारी भीड़ से सरकार को सुचारू व्यवस्था बनाने में मुश्किल हो रही है। अब तक चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण का आंकड़ा 31 लाख पार हो चुका है।

उन्होंने अनुरोध किया है कि जो भी चारधाम यात्रा पर आना चाहते हैं, वह पंजीकरण में जो तिथि मिली है, उसी पर आएं। उन्होंने सभी टूर ऑपरेटरों व ट्रैवल एजेंटों को भी यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि वह यात्रा शुरू करने से पहले पंजीकरण जांच लें।