ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडजाग उठा पहाड़...पिथौरागढ़ में गर्मी में पीने के पानी के लिए पंचायत, महिलाएं भी पहुंचीं

जाग उठा पहाड़...पिथौरागढ़ में गर्मी में पीने के पानी के लिए पंचायत, महिलाएं भी पहुंचीं

इस दौरान उन्होंने बाजार में जुलूस निकाला। रामलीला मैदान से शुरू हुआ जुलूस गांधी चौक, नया बाजार, केएमओयू स्टेशन, गुप्ता तिराहे होते हुए टकाना स्थित कलक्ट्रेट पहुंचा और आक्रोशित लोग ने प्रदर्शन किया।

जाग उठा पहाड़...पिथौरागढ़ में गर्मी में पीने के पानी के लिए पंचायत, महिलाएं भी पहुंचीं
Himanshu Kumar Lallपिथौरागढ़। हिन्दुस्तानTue, 07 May 2024 03:18 PM
ऐप पर पढ़ें

पिथौरागढ़ सीमांत में पानी के संकट से जूझ रहा जनाक्रोश सड़क पर उतर आया। रविवार को जाग उठा पहाड़ के पानी पंचायत में शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों ने भागीदारी निभाते हुए शासन-प्रशासन के खिलाफ बाजार में ढोल-नगाड़ों के साथ विशाल जुलूस निकाला।

आक्रोशित लोगों ने कलक्ट्रेट का घेराव करते हुए कहा कि प्रशासन लोगों को पानी उपलब्ध कराने में नाकाम रहा है। घरों में आपूर्ति बाधित होने से लोग धारों और हैंडपंप से पानी ढोकर अपनी प्यास बुझा रहे हैं। नगर के रामलीला मैदान सदर में गोपू महर के नेतृत्व में लोग एकत्र हुए।

इस दौरान उन्होंने बाजार में जुलूस निकाला। रामलीला मैदान से शुरू हुआ जुलूस गांधी चौक, नया बाजार, केएमओयू स्टेशन, गुप्ता तिराहे होते हुए टकाना स्थित कलक्ट्रेट पहुंचा और आक्रोशित लोग डीएम कार्यालय के बाहर धरने पर बैठ गए।

यहां हुई सभा के दौरान वक्ताओं ने कहा कि करोड़ों की लागत से पेयजल योजनाएं बनाई गई हैं, इसके बावजूद लोगों को पीने के लिए पानी नहीं मिल रहा है। कहा कि लंबे समय से लोग पानी की समस्या को दूर करने की मांग उठा रहे हैं, लेकिन सरकारी तंत्र हाथ में हाथ धरा बैठा हुआ है।

कहा कि बच्चों से लेकर महिलाओं का पूरा दिन इन दिनों में पानी के इंतजाम में ही बीत रहा है। उन्होंने शासन-प्रशासन से सीमांत को जल आपदा क्षेत्र घोषित करने, तत्काल दो करोड़ की राहत राशि जारी करने, घाट पंपिंग योजना की एसआईटी जांच करने, सार्वजनिक जल पोस्ट संबंधित शासनादेश को निरस्त करने, रई शिव विहार कॉलोनी में नई पाइप लाइन स्वीकृत आदि की मांग की है।

बाद में सीडीओ नंदन कुमार, जल संस्थान के ईई सुरेश जोशी मौके पर पहुंचे और आक्रोशित लोगों को समझाया और जल्द ही समस्या को दूर करने का आश्वासन दिया, तब कहीं लोग कलक्ट्रेट से गए।

‘प्रत्येक वार्ड में हो एक टैंकर ’
पिथौरागढ़। पानी लेकर परेशान लोगों ने डीएम कार्यालय के बाहर धरना दिया। टकाना,बजेटी,पाण्डेयगांव,रई सहित अन्य हिस्सों से पहुंचे लोगों ने सीडीओ व जल संस्थान के अधिकारियों के सामने आक्रोश जताया। कहा कि जल संस्थान कार्यालय में पेड़ की छांव में टैंकर को रखा जा रहा है। जबकि प्रत्येक वार्ड में एक टैंकर तैनात करने की जरुरत है।

बच्चों के कपड़े तक नहीं धो पा रही महिलाएं
पिथौरागढ़। पानी की किल्लत होने पर महिलाएं बच्चों के कपडे तक नहीं धो पा रही हैं। सोमवार को डीएम कार्यालय पहुंची महिला मनीषा भट्ट ने बताया कि पानी की समस्या से वह बच्चों के कपडे तक नहीं धो पा रही हैं। कहा कि पीने के लिए वह महादेव से पानी ला रही है।

‘योजनाओं की हो उच्च स्तरीय जांच’
पिथौरागढ़। पूर्व सभासद सुबोध बिष्ट ने घाट व आंवलाघाट पेयजल योजना की उच्च स्तरीय जांच की मांग उठाई है। सोमवार को पूर्व सभासद बिष्ट ने कहा कि घाट व आंवलाघाट योजना में काफी अनियमिताएं हुई है। आरोप लगाते हुए कहा कि अधिकारियों की नाकामी व योजनाओं में टालमटोली के चलते लोगों को पानी नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग उठाई।