DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तराखंड › वन भर्ती परीक्षा में कथित धांधली का ऑडियो हुआ वायरल, कहीं गुमराह करने की साजिश तो नहीं !
उत्तराखंड

वन भर्ती परीक्षा में कथित धांधली का ऑडियो हुआ वायरल, कहीं गुमराह करने की साजिश तो नहीं !

हिन्दुस्तान टीम, देहरादूनPublished By: Himanshu Kumar Lall
Wed, 21 Jul 2021 12:16 PM
वन भर्ती परीक्षा में कथित धांधली का ऑडियो हुआ वायरल, कहीं गुमराह करने की साजिश तो नहीं !

उत्तराखंड में भर्ती परीक्षा में कथित धांधली का ऑडियो वायरल हुआ है। इसे वन दरोगा भर्ती से जोड़ प्रसारित किया जा रहा है। इसमें कथित दलाल और अभ्यर्थी को 12 लाख रुपये में परीक्षा पास कराने की गारंटी दे रहा है।  हालांकि ‘हिन्दुस्तान’ इस ऑडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। मगर, ऑनलाइन परीक्षा के बीच वायरल ऑडियो से अभ्यर्थियों में हड़कंप है। कुछ युवा भर्ती को लेकर सवाल उठा रहे हैं तो कुछ ऑडियो को अभ्यर्थियों का मनोबल तोड़ने की साजिश करार दे रहे हैं। उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, वन दरोगा भर्ती प्रक्रिया करा रहा है। 316 पदों के सापेक्ष करीब 80 हजार युवाओं ने आवेदन किया है।

लंबे इंतजार के बाद 16 जुलाई से ऑनलाइन परीक्षा शुरू हुई है, जो 26 जुलाई तक चलेगी। दो पालियों में परीक्षा चल रही है। राज्य के सभी 13 जिलों में ऑनलाइन परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इसी बीच वायरल हुए एक ऑडियो ने खलबली मचा दी है। इस ऑडियो में कथित दलाल और कथित अभ्यर्थी के बीच बात हो रही है। हालांकि, पूरे ऑडियो में वन दरोगा भर्ती का जिक्र नहीं है, लेकिन दोनों की बातचीत में जिस तरह से ऑनलाइन (सीबीटी) और शारीरिक परीक्षा का जिक्र हो रहा है, उसे इसी परीक्षा से जोड़कर देखा जा रहा है। ऑडियो में कथित अभ्यर्थी को दलाल बता रहा है कि परीक्षा और रनिंग करनी पड़ेगी। वह दोनों जगह जुगाड़ कराएगा। यह भी कह रहा है कि उसका सहयोगी परीक्षा की लैब में रहता है, जो सारे प्रश्न बताएगा।

सवाल: कहीं गुमराह करने की साजिश तो नहीं !
ज्यादातर युवा ऑडियो की सत्यता पर सवाल उठाते हुए इसे गुमराह करने की साजिश करार दे रहे हैं। यू-ट्यूब समेत कई सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर इसे लेकर वीडियो संदेश जारी किए गए हैं। एक युवक ने वीडियो के जरिये कहा कि परीक्षा के माहौल के बीच यह व्यवधान पैदा करने की साजिश हो सकती है। ऑडियो फेक हो सकता है। इस तरह के ऑडियो से अभ्यर्थियों का मनोबल तोड़ने की कोशिश हो सकती है। जब तक ऑडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं होती, तब तक अभ्यर्थी भर्ती परीक्षा पर ध्यान दें।

दूसरे वीडियो में एक युवक का कहना है कि उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने पारदर्शी भर्ती परीक्षा के लिए कड़े मानक बनाए हैं। ऐसे ऑडियो वायरल कर भर्ती प्रक्रिया को प्रभावित करने की साजिश हो सकती है। फेक ऑडियो से भर्ती प्रक्रिया लटकने का खामियाजा युवाओं को भुगतना पड़ेगा। सोशल मीडिया पर कुछ युवा भर्ती प्रक्रिया पर सवाल उठा रहे हैं। उनका कहना है कि अगर ऐसा हो रहा है तो यह युवाओं से अन्याय है। ऑडियो जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की मांग की जा रही है।

ऑडियो हमारे पास भी आया है। यह आयोग को बदनाम करने या ऑनलाइन परीक्षा रद कराने की साजिश लग रही है। क्योंकि, ऑनलाइन परीक्षा में अब नकल माफिया की दखल बंद हो गई है। हमारी परीक्षा पूरी तरह पारदर्शी और सुरक्षित है। इस ऑडियो की पुलिस से जांच करवाएंगे।
संतोष बडोनी, सचिव-उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग 

 

संबंधित खबरें