ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडबदरीनाथ हाईवे पर टेंपो ट्रैवलर के नदी में गिरने से नाेएडा की 4 लड़कियों की मौत-दो घायल; 14 की गई जान

बदरीनाथ हाईवे पर टेंपो ट्रैवलर के नदी में गिरने से नाेएडा की 4 लड़कियों की मौत-दो घायल; 14 की गई जान

टेंपो ट्रैवलर में सवार यात्रियों को उम्मीद थी वे जल्द ही अपनी मंजिल तक पहुंच जाएंगे, लेकिन रुद्रप्रयाग पहुंचने से पहले उनका वाहन नदी में जा गिरा। यात्री ने बताया कि वे हंसते गाते आगे बढ़ रहे थे।

बदरीनाथ हाईवे पर टेंपो ट्रैवलर के नदी में गिरने से नाेएडा की 4 लड़कियों की मौत-दो घायल; 14 की गई जान
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तान टीमSun, 16 Jun 2024 10:16 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड के बदरीनाथ हाईवे पर टेंपो ट्रैवलर के अलकनंदा नदीं में गिरने से 14 पर्यटकों की दर्दनाक मौत हो गई। दिल्ली से उत्तराखंड के चौपता जा रही पर्यटकों से भरी गाड़ी रुद्रप्रयाग से पहले नदी में गिर गई। शनिवार सुबह हुए सड़क हादसे में यूपी नोएडा के पीजी में रहने वाली चार लड़कियों की दर्दनाक मौत हो गई।

जबकि, दो लड़कियां गंभीर रूप से घायल हैं। सभी लड़कियां दोस्तों के साथ उत्तराखंड घूमने गई थीं। लड़कियां शुक्रवार की शाम टेंपो ट्रैवलर से निकली थीं। हादसे के बाद पीजी और युवतियों के दफ्तर में मातम छाया हुआ है।

यह भी पढ़ें:165 किमी तक किसी ने नहीं रोका और 14 की मौत,  20 की जगह टेंपो ट्रेवलर में सवार थे इतने पर्यटक 

नोएडा सेक्टर-51 स्थित एक पीजी में वंदना शर्मा, निकिता भट्ट, कुमारी शुभम सिंह, अंजली श्रीवास्तव, मोहिनी पांडे और स्मृति शर्मा रहती थीं। मूल रूप से सोनभद्र की स्मृति शर्मा, प्रतापढ़ की मोहिनी पांडेय, खटीमा, उत्तराखंड की निकिता भट्ट, बेतिया बिहार की अंजलि श्रीवास्तव की हादसे में मौत हो गई।

प्रयागराज की वंदना शर्मा और कुशीनगर की कुमारी शुभम सिंह दुर्घटना में घायल हैं। निकिता भट्ट सेक्टर-132 में और मोहिनी पांडेय सेक्टर-127 में एक कंपनी में नौकरी करती थीं। अंजलि श्रीवास्तव और स्मृति शर्मा भी एक निजी कंपनी में काम करती थीं।

कुमारी शुभम सिंह कुशीनगर उत्तर प्रदेश की रहने वाली हैं और उनका दफ्तर सेक्टर-129 में है। वंदना शर्मा इलाहाबाद की निवासी हैं। वह सेक्टर-135 में नौकरी करती हैं। हादसे में घायल वंदना शर्मा ने बताया कि शुक्रवार शाम को को टेंपो ट्रैवलर से उत्तराखंड घूमने के लिए निकले थे।

वीडियो कॉल से जाना बेटी का हाल हादसे में घायल हुई वंदना शर्मा की मां साधना शर्मा ने अपनी बेटी का हाल वीडियो कॉल के माध्यम से जाना। बेटी की स्थिति देख मां काफी भावुक हो गईं। बेटी के आधे चेहरे पर पट्टी बंधी देख मां के आंखों से आंसू आगए। साधना शर्मा ने बताया कि बेटी के घूमने जाने से पहले फोन पर बातें हुई थीं। बेटी के घूमने जाने देने के लिए पहले उन्होंने इंकार कर दिया था। फिर उसके निवेदन करने पर घूमने जाने दिया।

शाम को चोपता में रुकने का था प्लान
टेंपो ट्रैवलर में सवार यात्रियों को उम्मीद थी वे जल्द ही अपनी मंजिल तक पहुंच जाएंगे, लेकिन रुद्रप्रयाग पहुंचने से पहले उनका वाहन नदी में जा गिरा। एक घायल यात्री ने बताया कि वे हंसते गाते आगे बढ़ रहे थे। सभी यही चर्चा कर रहे थे कि अब रुद्रप्रयाग आने वाला है और शाम को वे चोपता पहुंच जाएंगे।

आज चोपता में ही रुकने का प्रोगाम था, लेकिन चंद मिनटों में सब कुछ बिखर गया। यात्री ने बताया कि वाहन की स्पीड अधिक थी, अचानक मेरी आंखों के आगे अंधेरा छा गया और कुछ ही देर में रोने-चिल्लाने की आवाजें सुनाई देने लगीं।

सीएम योगी ने घटना पर जताया दुख
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तराखंड में हुए सड़क हादसे पर दुख जताते हुए शोकाकुल परिवारीजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं। उन्होंने अपने कार्यालय और राहत आयुक्त कार्यालय को तत्काल स्थानीय प्रशासन से संपर्क कर घायलों के समुचित उपचार और आवश्यक सुरक्षा सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं।

उनके निर्देश पर सहारनपुर से वरिष्ठ अधिकारियों की टीम रुद्रप्रयाग के लिए रवाना हो गई है। रुद्रप्रयाग में शनिवार को तीर्थयात्रियों को ले जा रहा वाहन सड़क दुर्घटना का शिकार हो गया। इसमें देर शाम तक 14 लोगों के मारे जाने की सूचना है, जिसमें उत्तर प्रदेश के भी यात्री शामिल हैं।