DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तराखंड › छात्रवृत्ति घोटाला:सरकार की सख्ती के आगे झूके शिक्षण संस्थान,करोड़ों जमा करवाकर घपलेबाजों ने पल्ला झाड़ा
उत्तराखंड

छात्रवृत्ति घोटाला:सरकार की सख्ती के आगे झूके शिक्षण संस्थान,करोड़ों जमा करवाकर घपलेबाजों ने पल्ला झाड़ा

हिन्दुस्तान टीम, देहरादूनPublished By: Himanshu Kumar Lall
Tue, 27 Jul 2021 10:26 AM
छात्रवृत्ति घोटाला:सरकार की सख्ती के आगे झूके शिक्षण संस्थान,करोड़ों जमा करवाकर घपलेबाजों ने पल्ला झाड़ा

समाज कल्याण विभाग के चर्चित छात्रवृत्ति घोटाले में कार्रवाई से घबराए घपलेबाज शिक्षण संस्थानों ने अब तक 14.39 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम लौटा दी है। हैरानी की बात यह है कि यह पैसा किन-किन संस्थानों ने जमा कराया है, समाज कल्याण विभाग को इसकी खबर ही नहीं है। विभागीय अफसरों को केवल यह पता है कि पैसा जमा हो गया है, लेकिन किसने कराया है, इसका कोई रिकार्ड विभाग के पास नहीं है।  छात्रवृत्ति घोटाले में गिरफ्तारी के डर से कई संस्थानों ने सरकार को पैसा लौटाने की पेशकश की थी।

इसके लिए समाज कल्याण विभाग ने बैंक ऑफ बडौदा में खाता खोला था। इस खाते में बीती 25 जून तक 14 करोड़ 39 लाख 64 हजार 918 रुपये जमा हो चुके हैं। आरटीआई कार्यकर्ता रविंद्र जुगरान ने इस मामले में जानकारी मांगी तो विभाग के कान खड़े हुए। अब बैंक से धन जमा कराने वाले संस्थानों का ब्योरा मांगा जा रहा है।

जिन संस्थानों ने बैंक में पैसा जमा कराया है फिलहाल उनके नाम हमारे पास नहीं हैं। पैसा जमा करने वाले सभी संस्थानों की जानकारी संबंधित बैंक से मांगी गई है।
कांतिराम जोशी, सहायक निदेशक, समाज कल्याण

आरटीआई में क्या जानकारी मांगी गई थी और क्या जानकारी दी गई , यह मेरे संज्ञान में नहीं है। नियमानुसार संस्थानों के नाम पता होने चाहिए। मैं इस संबंध में जानकारी लूंगा। 
राजेंद्र कुमार, निदेशक समाज कल्याण उत्तराखंड

 

संबंधित खबरें