ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडविधानसभा में यूसीसी पर बहस के दौरान कई बार गूंजा जय सिया राम, नाराज स्पीकर ने विधायकों को दी यह नसीहत

विधानसभा में यूसीसी पर बहस के दौरान कई बार गूंजा जय सिया राम, नाराज स्पीकर ने विधायकों को दी यह नसीहत

उत्तराखंड विधानसभा ने समान नागरिक संहिता (यूसीसी) को पास कर दिया है। चर्चा के दौरान विधानसभा में कई बार जय सिया राम का नारा गूंजा। इसे लेकर सत्ता और विपक्ष के बीच कई बार नोकझोंक हुई।

विधानसभा में यूसीसी पर बहस के दौरान कई बार गूंजा जय सिया राम, नाराज स्पीकर ने विधायकों को दी यह नसीहत
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,देहरादूनThu, 08 Feb 2024 09:31 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड विधानसभा में यूसीसी की चर्चा बार-बार जय सिया राम की बहस में तब्दील होती रही। इसे लेकर सत्ता और विपक्ष के विधायकों में कई बार नोकझोंक भी हुई। स्पीकर ऋतु खंडूड़ी को हस्तक्षेप करते हुए पीठ से विधायकों को नसीहत दी और कहा कि जय सिया राम बहुत हुआ। अब यूसीसी पर बोलिए। सदन में बुधवार को यूसीसी पर चर्चा के दौरान कांग्रेस विधायक आदेश चौहान ने कहा कि हमने सुना था कि भगवान राम सांवले थे। पर आपने मूर्ति को काला कर दिया। इस पर संसदीय कार्यमंत्री प्रेमचंद अग्रवाल भड़क गए। उन्होंने विधायक को टोकते हुए बयान पर आपत्ति जताई। इसे लेकर दोनों के बीच तीखी बहस और कहासुनी हुई।

आपका इतना हाईपर होना ठीक नहीं

सदन में संसदीय कार्यमंत्री प्रेमचंद अग्रवाल की आक्रामकता को देखकर कांग्रेस विधायक हरीश धामी ने उनसे कहा कि आप संसदीय कार्य मंत्री हैं। आपसे पूरे सदन को सीखने को मिलता है। ऐसे में इतना एग्रेशन ठीक नहीं। बाद में जब धामी एग्रेशन में आए तो प्रेमचंद अग्रवाल तपाक से बोले-आपने मुझे नसीहत दी और मैंने आपसे सीखा। इस पर हरीश धामी ने कहा कि पहले जब आप विपक्ष में थे तो आप सदन में कागज भी फाड़कर फेंकते थे। इस पर विधानसभा अध्यक्ष भी मुस्करा उठीं। उन्होंने कहा कि अब मंत्री जी का एग्रेशन कम हो गया है।

हमारी वजह से आप ले पा रहे भगवान राम का नाम

सदन में कांग्रेस विधायक रवि बहादुर ने यूसीसी पर बोलने से पहले जय सियाराम का नारा लगाया। इस दौरान उनके और संसदीय कार्यमंत्री के बीच कहासुनी हो गई। रवि बहादुर ने कहा कि वह वाल्मीकि समुदाय से आते हैं। आप राम मंदिर बनाने का श्रेय लेने की कोशिश करते हैं। ऐसे में यदि हम कहें कि आप हमारी वजह से ही भगवान राम का नाम ले पा रहे हैं तो...।

विधानसभा अध्यक्ष ने मंत्री, विधायकों को दी नसीहत

सदन में बार-बार जय सिया राम को लेकर कहासुनी, नोकझोंक और बहस होने से स्पीकर नाराज हो गईं। उन्होंने संसदीय कार्यमंत्री के साथ सत्ता पक्ष व विपक्ष के विधायकों को कड़ी नसीहत दी। उन्होंने कहा कि यह सदन समान आचार संहिता पर चर्चा के लिए बुलाया है। राज्य ही नहीं पूरे देश की निगाहें उन पर हैं। ऐसे में सभी यूसीसी पर केंद्रित होकर चर्चा में भाग लें।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें