DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीट परीक्षा के लिए रिविजन जरूरी

नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट कम एंट्रेस एक्जाम (नीट) परीक्षा के लिए दो महीने ही बाकी रह गए हैं। छात्र परीक्षा में अच्छे अंक लाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। परीक्षा विशेषज्ञों ने छात्रों को अंतिम समय में कुछ नया न पढ़कर, पुराने पढ़ चुके पाठ्यक्रम को दोहराने की सलाह दी है। वहीं मॉक टेस्ट सॉल्व करने पर जोर दिया। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) देशभर में नीट परीक्षा ऑनलाइन माध्यम से आयोजित करा रही है। देशभर के प्रतिष्ठित मेडिकल संस्थानों में दाखिल के लिए हो रही यह परीक्षा पांच मई को होगी। ऐसे में छात्रों का परीक्षा को लेकर चिंतित होना स्वभाविक है। विशेषज्ञ वैभव राय ने परीक्षा में बैठने जा रहे छात्रों को अंतिम समय में मॉक टेस्ट सॉल्व करने की सलाह दी है।  मॉक टेस्ट एनटीए की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। साथ ही तैयारी करवाने वाले संस्थानों की वेबसाइट पर भी ये उपलब्ध हैं। छात्र पुराने साल के प्रश्न पत्र हल करके भी अपनी तैयारी जांच सकते हैं। अंतिम वक्त में छात्र परीक्षा का दबाव महसूस करने लगते हैं। ऐसे समय में छात्रों को बस अपनी तैयारी पर ध्यान देना चाहिए। परीक्षा विशेषज्ञ डीके मिश्रा ने छात्रों को तनाव न लेने की सलाह दी। कहा कि छात्र शांत मन से पढ़ाई करें। कहा कि ऐसे में छात्रों को अपने पसंदीदा विषय के प्रश्न सॉल्व करने चाहिए, जिससे उनका आत्मविश्वास बढ़े। 

 

परीक्षा में बेहतर अंक हासिल करना युवाओं के लिए हमेशा चिंता का विषय रहा है। परिवार और परीक्षा के दबाव में युवा अक्सर तनाव का शिकार हो जाते हैं। परीक्षा के अंतिम समय में किसी भी प्रकार का दबाव न लें। अभिभावक और शिक्षक परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं पर किसी भी प्रकार का दबाव न बनाएं। 
डा. सोना कौशल गुप्ता, साइकोलॉजिस्ट  

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:revision is important for cracking neet examination