ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडरिटायर फौजी और महिला का मर्डर या हादसे में मौत! दोनों के एक साथ शव मिलने के बाद जांच शुरू 

रिटायर फौजी और महिला का मर्डर या हादसे में मौत! दोनों के एक साथ शव मिलने के बाद जांच शुरू 

रिटायर फौजी और महिला की एक्सीडेंट में जान गई या किसी ने हत्या की, इसका पता लगाने के लिए पुलिस को कई एंगल पर जांच करनी होगी। हत्या में रविवार देर रात तक पुलिस प्रयास करती रही।

रिटायर फौजी और महिला का मर्डर या हादसे में मौत! दोनों के एक साथ शव मिलने के बाद जांच शुरू 
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तानMon, 27 Nov 2023 10:24 AM
ऐप पर पढ़ें

रिटायर फौजी और एक महिला के शव सड़क किनारे सिंचाई गूल में पड़े मिले। दोनों के शरीर पर चोट के मामूली निशान हैं। पुलिस प्रथमदृष्टया दोनों की मौत की वजह, किसी वाहन से टक्कर लगने को मान रही है। मौके के पास से वाहन का एक टूटा हिस्सा भी मिला है। हालांकि पुलिस हत्या के एंगल से भी जांच कर रही है।

देहरादून के वसंत विहार थाना क्षेत्र के चाय बागान इलाके में रविवार सुबह दोनों का शव मिला था। अंबीवाला निवासी पूर्व फौजी संदीप मोहन धस्माना (40) रविवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे वॉक पर निकले। अमूमन वह एक-डेढ़ घंटे में घर वापस पहुंच जाते थे पर रविवार को तीन घंटे बाद भी नहीं पहुंचे। पत्नी ने उनके फोन पर कॉल की जो रिसीव नहीं हुई तो परिजनों और रिश्तेदारों ने तलाश शुरू की।

काफी देर बाद भी कुछ पता नहीं चला। इस पर एक रिश्तेदार ने दिल्ली में अपने परिचित के माध्यम से संदीप के मोबाइल फोन की लोकेशन पता कराई। लोकेशन गोरखपुर मार्ग पर दरू चौक के पास मिली। परिजनों ने मौके पर पहुंचकर ढूंढ की तो करीब एक मीटर आगे संदीप सिंचाई गूल में डूबे मिले।

उनके पैरों के पास ही एक महिला भी डूबी मिली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिला के बारे में पता की तो उसकी पहचान हेमलता (38) पत्नी सुनील कुमार निवासी पितांबरपुर के रूप में हुई। हेमलता रोज सुबह पास के गांव में एक कोठी में खाना बनाने जाती थी।

संदीप भारतीय सेना में नौकरी करते थे। वह करीब ढाई साल पहले सेना से रिटायर हुए। रिटायर होने के बाद उन्होंने अंबीवाला में अपना मकान बनाया था। यहां पास में उनकी ससुराल भी है। संदीप का करीब दस साल का एक बेटा है।

संदीप की मौत की सूचना के बाद उनकी पत्नी और परिवार सदमे में हैं। उधर, हेमलता के तीन बच्चे हैं। हेमलता की शादी करीब 23 साल पहले हुए थी। हेमलता का पति राज मिस्त्री का काम करता है। संदीप रिटायर होने के बाद प्रापर्टी डीलिंग का काम भी करते थे। हादसे से लोग सकते में हैं।

शव मिलने के बाद पुलिस हर एंगल से कर रही जांच
रिटायर फौजी और महिला की एक्सीडेंट में जान गई या किसी ने हत्या की, इसका पता लगाने के लिए पुलिस को कई एंगल पर जांच करनी होगी। हत्या में रविवार देर रात तक पुलिस प्रयास करती रही, लेकिन किसी परिणाम तक नहीं पहुंच पाई।

पुलिस मौके पर पहुंची तो शुरुआत में लगा कि दोनों की हत्या कर शव सिंचाई गूल में फेंके गए। प्राथमिक जांच में पता चला है कि दोनों के बीच कोई संपर्क नहीं था। अब पुलिस मान रही है कि पास से गुजर रहे किसी वाहन ने उन्हें टक्कर मारी और दोनों इस गूल में जा गिरे। इससे उनकी मौत हो गई। महिला की ठोढी पर छोटा कट का निशान था।

संदीप के हाथ में हल्की चोट लगी थी। अगर दोनों एक-दूसरे को जानते नहीं थे और एक्सीडेंट हुआ तो सवाल यह है कि वह एक साथ क्यों चल रहे थे। उधर, महिला जहां काम करने जाती थी, वह पैदल 20 मिनट का रास्ता है। दूसरा रास्ता शार्ट कट भी है। अधिकांश समय महिला उसका उपयोग करती थी। बुधवार को उसने यह लंबा रास्ता चुना।

महिला नहीं चलाती थी मोबाइल फोन
एसएसपी ने बताया कि हेमलता मोबाइल फोन नहीं चलाती थी। वारदात के बाद पुलिस ने संदीप के मोबाइल कॉल डिटेल निकाली। इस दौरान उसमें किसी से सुबह संपर्क होने का पता नहीं लगा। अब मौत की वजह जानने के लिए आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। इसमें घटना के दौरान इस रूट पर गए वाहनों का डाटा खंगाला जा रहा है।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें