ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडहाथों में हथियार, और 20 करोड़ के गहने लूट फरार, देहरादून में रिलायंस शोरूम डकैती में 2 बाइक बरामद

हाथों में हथियार, और 20 करोड़ के गहने लूट फरार, देहरादून में रिलायंस शोरूम डकैती में 2 बाइक बरामद

राजपुर रोड स्थित रिलायंस ज्वेलरी शोरूम में हथियारबंद बदमाशों ने 20 करोड़ से अधिक गहनों की डकैती कर डाली। पुलिस की चेकिंग में बदमाशों द्वारा इस्तेमाल की गई दो मोटर साइकिल भी बरामद की गई।

हाथों में हथियार, और 20 करोड़ के गहने लूट फरार, देहरादून में रिलायंस शोरूम डकैती में 2 बाइक बरामद
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तानFri, 10 Nov 2023 11:10 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड के 23वें स्थापना दिवस पर राष्ट्रपति की मौजूदगी में अफसर सफल परेड की खुशी मना पाते, इससे पहले ही बदमाशों ने पुलिस का चैन छीन लिया। राष्ट्रपति के दौरे के चलते शहरभर में कड़ा सुरक्षा पहरा था। लेकिन, डकैतों ने इन दावों की हवा निकाल दी।

राजपुर रोड स्थित रिलायंस ज्वेलरी शोरूम में हथियारबंद बदमाशों ने 20 करोड़ से अधिक गहनों की डकैती कर डाली। पुलिस की चेकिंग में बदमाशों द्वारा इस्तेमाल की गई दो मोटर साइकिल भी बरामद की गई।ज्वेलरी शोरूम में हुई वारदात देहरादून के इतिहास की सबसे बड़ी डकैती बताई जा रही है। बदमाश बीस करोड़ से अधिक के गहने ले गए। राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिए प्रदेशभर से फोर्स को दून लाया गया था।

गुरुवार सुबह करीब पौने नौ बजे राष्ट्रपति का काफिला दिलाराम चौक से बहल चौक और सर्वे चौक होकर पुलिस लाइन पहुंचा। इसके बाद पौने घंटे के भीतर डकैत राजपुर रोड के ज्वेलरी शोरूम में घुस गए। हौसले इतने बुलंद थे कि उनको पुलिस की अतिरिक्त सुरक्षा का डर ही नहीं था। यही नहीं, डकैती के बाद बदमाश घंटाघर की तरफ भागे।

जिस वक्त डकैती पड़ी, पुलिस के आला अफसर पुलिस लाइन में राष्ट्रपति के साथ मौजूद थे। यहां आयोजन सफलता पूर्वक पूरा होने जा रहा था। इसकी खुशी सबके चेहरों पर नजर आ रही थी। इसी बीच, करोड़ों की डकैती की सूचना मिलते ही अफसरों के चेहरे का रंग बदल गया। राष्ट्रपति को विदा करते हुए एसएसपी भी घटनास्थल पहुंचे।

2010 में भी इसी तरह धनतेरस पर पड़ी थी डकैती
दून में साल 2010 में भी धनतेरस के दिन इसी तरह राजपुर रोड स्थित विशाल मेगा मार्ट में डकैती हुई थी। तब बदमाश करीब एक करोड़ रुपये का कैश ले गए थे। उस दौरान डकैती में शामिल अमित मलिक उर्फ भूरा और जितेंद्र उर्फ काला समेत कई बदमाशों पर गैंगस्टर लगाया गया था। हालांकि, भूरा और काला हाल में डकैती के मामले में कोर्ट से बरी हो चुके हैं।

बिहार के गैंग पर शक, अब पहचान की कोशिश
रिलायंस ज्वेलरी शोरूम में डकैती के बाद पुलिस ने बाहरी राज्यों में ऐसी वारदात की जानकारी हासिल की। इस दौरान पता चला कि दिल्ली, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों में भी इसी कंपनी के शोरूम में वारदात हो चुकी है। इस पर एक गैंग पर पुलिस का शक गया है, जो बिहार के नालंदा का बताया जा रहा है।

एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि विभिन्न राज्यों में भी रिलायंस स्टोर में लूट हो चुकी है। वहां की वारदात की सीसीटीवी फुटेज पुलिस ने जांची है। सूत्रों के मुताबिक, बिहार के नालंदा के एक गैंग पर पुलिस का शक गया है। यह गैंग सुबोध नाम के व्यक्ति का बताया जा रहा है। वह अभी जेल में बंद है। संभावना है कि उसके साथियों ने यह वारदात की हो।

उसके गैंग से जुड़े लोगों के सत्यापन में टीम लगाई गई है। इस गैंग ने कर्नाटक में शोरूम में लूट के वक्त भी टाई बैंड का उपयोग किया था। दून की वारदात में भी यह टाई बैंड इस्तेमाल किए गए। एसएसपी ने इसके खुलासे के लिए विशेष टीम का गठन कर दिया है, जो अलग-अलग एंगल पर जांच कर रही है। एसएसपी खुद इसकी कमान संभाल रहे हैं।

देहरादून की सबसे बड़ी डकैती पर सीएम सख्त
देहरादून में गुरुवार को ज्वेलरी शोरूम में हुई डकैती की वारदात को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गहरी नाराजगी व्यक्त की है। उन्होंने इस मामले के जल्द से जल्द खुलासे के निर्देश पुलिस अधिकारियों को दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने इस मामले में कड़ा रुख अख्तियार करते हुए शुक्रवार को पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक अंशुमन, आईजी गढ़वाल सहित एसएसपी देहरादून एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को तलब किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वारदात में जिन भी लोगों का हाथ है, उन्हें जल्द से जल्द पकड़ा जाए। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था में किसी भी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें