ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडउत्तराखंड के रामभक्त निराश, अयोध्या जाने वाली दो स्पेशल ट्रेनें स्थगित; इस वजह से लिया फैसला

उत्तराखंड के रामभक्त निराश, अयोध्या जाने वाली दो स्पेशल ट्रेनें स्थगित; इस वजह से लिया फैसला

अयोध्या मे रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद उत्तराखंड के श्रद्धालु भगवान राम के दर्शन हेतु गुरुवार को ट्रेन से रवाना होने वाले थे। लेकिन अब इस ट्रेन को स्थगित कर दिया गया है जिससे भक्त निराश हैं।

उत्तराखंड के रामभक्त निराश, अयोध्या जाने वाली दो स्पेशल ट्रेनें स्थगित; इस वजह से लिया फैसला
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,देहरादूनThu, 25 Jan 2024 09:42 AM
ऐप पर पढ़ें

 

अयोध्या में उमड़ रही दर्शनार्थियों की अत्यधिक भीड़ के चलते उत्तराखंड से राम भक्तों को लेकर अयोध्या जाने वाली दो स्पेशल ट्रेनों को स्थगित कर दिया गया है। पहली ट्रेन गुरुवार और दूसरी ट्रेन एक फरवरी को हरिद्वार से रवाना होनी थी। गुरुवार को हरिद्वार से जाने वाली 22 कोचों की ट्रेन के लिए श्रद्धालुओं की सूची बनाने से लेकर तमाम तैयारियां पूरी कर ली गई थीं। 1460 यात्रियों को सूचित भी कर दिया गया था, अयोध्या में रामभक्तों के सैलाब को देखते हुए फिलहाल ट्रेनों को रोकने का निर्णय लिया गया। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रचार प्रमुख संजय कुमार ने बताया कि अयोध्या जाने वाले भक्तों के लिए स्पेशल ट्रेन गुरुवार को हरिद्वार से रवाना होनी थी, जिसे अब रोक दिया गया है। 

साधारण श्रेणी की स्लीपर कोच वाली ट्रेन थी तैयार 

अयोध्या जाने के लिए साधारण श्रेणी की स्लीपर क्लास विशेष ट्रेन में 1460 लोगों की सूची तैयार थी। मुख्यमंत्री से इस ट्रेन को हरी झंडी दिखाने की योजना भी बन चुकी थी।

राम मंदिर आंदोलन में शामिल परिवारों को अहमियत

अयोध्या में राम मंदिर आंदोलन के लिए कारसेवा करने वाले परिवारों को श्रद्धालुओं की सूची में प्राथमिकता दी गई है। इस सूची को प्रांत पदाधिकारियों की स्वीकृति के बाद अंतिम रूप दिया गया। कारसेवकों के परिवार समेत मंदिर आंदोलन में भावनात्मक रूप से जुड़े परिवारों को भी इस यात्रा की पहली सूची में शामिल किया गया।

दो सूचियों पर हुआ है मंथन

संघ की प्रांत टीम ने पहली सूची तैयार कर ली थी। दूसरी सूची पर मंथन शुरू हो चुका था। एक ऐप से आवेदन मांगे गए थे। गुरुवार को अयोध्या जाने वाली ट्रेन का समय दोपहर दो बजे रखा गया था। इस ट्रेन में गढ़वाल के अलावा देहरादून, मसूरी, ऋषिकेश, डोईवाला, हरिद्वार के आरएसएस कार्यकर्ता, राम मंदिर आंदोलन में योगदान देने वाले परिवार व गणमान्य लोगों को शामिल किया गया था। यात्रियों को चादर-तकिये, कंबल के साथ भोजन के पैकेट देने की व्यवस्था की गई थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें