ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडअब्दुल मलिक सहित तीन वांटेड को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने यह चली चाल, 8 फरवरी हल्द्वानी हिंसा के बाद से था फरार

अब्दुल मलिक सहित तीन वांटेड को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने यह चली चाल, 8 फरवरी हल्द्वानी हिंसा के बाद से था फरार

16 दिन से वह फरार चल रहा था। उसकी तलाश में पुलिस की नौ टीमें दिल्ली, यूपी, बिहार, गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और चंडीगढ़ सहित अन्य राज्यों की खाक छानती रहीं। पुलिस उसे कोर्ट में पेश करेगी।

अब्दुल मलिक सहित तीन वांटेड को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने यह चली चाल, 8 फरवरी हल्द्वानी हिंसा के बाद से था फरार
Himanshu Kumar Lallहल्द्वानी, हिन्दुस्तानSat, 24 Feb 2024 07:25 PM
ऐप पर पढ़ें

Haldwani News Hindi: हल्द्वानी हिंसा में वांटेंड अब्दुल मलिक को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया है। वनभूलपुरा क्षेत्र में आठ फरवरी को हुई हिंसा के वांटेड अब्दुल मलिक को शुक्रवार की देर रात पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया।

शनिवार को उसे हल्द्वानी लाया गया। अब्दुल मलिक के साथ-साथ पुलिस ने हिंसा मामले के दो अन्य आरोपी मोहम्मद फुरकान और सलीम को भी गिरफ्तार किया है। शनिवार की देर रात तक पुलिस आरोपियों को कोर्ट में पेश करेगी।

आठ फरवरी को मलिक का बगीचा स्थित नजूल भूमि पर कब्जा कर बनाए गए अवैध मदरसा और धार्मिक स्थल के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की गई थी। इस दौरान वनभूलपुरा क्षेत्र में हिंसा भड़क गई और पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों व फोर्स पर उपद्रवियों ने पथराव कर पेट्रोल बम से जानलेवा हमला भी किया।

मामले में नामजद लाइन नंबर आठ आजाद नगर निवासी अब्दुल मलिक पर हिंसा भड़काने का आरोप है। 16 दिन से वह फरार चल रहा था। उसकी तलाश में पुलिस की नौ टीमें दिल्ली, यूपी, बिहार, गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और चंडीगढ़ सहित अन्य राज्यों की खाक छानती रहीं।

शुक्रवार की देर रात नैनीताल पुलिस व एसओजी की टीम ने दिल्ली से मलिक को गिरफ्तार कर लिया। शनिवार को उसे हल्द्वानी लाया गया। एसएसपी प्रह्लाद नारायण मीणा ने बताया कि मलिक के साथ-साथ मुखानी थाने की गाड़ी में आगजनी करने वाले आरोपी मोहम्मद फुरकान और सलीम को भी गिरफ्तार किया गया है।

शनिवार की देर रात आरोपियों को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लेने की अर्जी दी जाएगी। बताया कि गिरफ्तार करने वाली टीम को डीजीपी ने 50 हजार, डीआईजी ने पांच हजार और एसएसपी ने 2500 रुपये के इनाम की घोषणा की है। एसएसपी ने बताया कि मामले का आखिरी वांटेड अब्दुल मोईद अभी फरार है।

उसकी तलाश जारी है। जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बता दें अभी तक हिंसा मामले में पुलिस आठ वांटेड सहित 82 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं 79 लोगों को जेल भेजा जा चुका है। वनभुलपुरा हिंसा के वांछित आरोपी की गिरफ्तारी होने पर पुलिस ने राहत की सांस ली है।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें