DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कॉर्बेट से रैली में नहीं पहुंचे मोदी, मोबाइल से जनसभा को किया संबोधित

pm modi in uttrakhand (photo: Hindustan)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रुद्रपुर के एफसीआई मैदान पर प्रस्तावित ‘विजय शंखनाद महारैली’ में मौसम ने खलल डाल दिया। गुरुवार सुबह से ही अचानक मौसम का मिजाज बदलने के बाद दिनभर तेज हवाएं और बौछारें पड़ती रहीं। ऐसे में पीएम मोदी के रुद्रपुर पहुंचने का समय बारिश रुकने के इंतजार में आगे खिसकता रहा। मौसम साफ नहीं होने से पीएम के रुद्रपुर नहीं आ पाने की पुष्टि के बाद फोन पर उनका संबोधन कराया गया।  
गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी की रैली दोपहर तीन बजे प्रस्तावित थी। 

रैली के लिये ऊधमसिंह नगर के रुद्रपुर, काशीपुर, जसपुर, बाजपुर, सितारगंज, गदरपुर आदि क्षेत्रों समेत नैनीताल, हल्द्वानी, कालाढूंगी और कुमाऊंभर से भाजपा कार्यकर्ताओं के पहुंचने का सिलसिला सुबह नौ बजे से ही शुरू हो गया था। एफसीआई मैदान में 11 बजने तक भाजपा कार्यकर्ता और स्थानीय लोग बड़ी संख्या में जुट गये थे। सभी को पीएम मोदी के आने का इंतजार था। 

उधर, मौसम विभाग ने पहले ही गुरुवार को बारिश के आसार जताये थे। गुरुवार को सुबह से ही रुद्रपुर समेत तराई-भाबर में बादल छाये हुये थे। दोपहर 12 बजते ही अचानक तेज हवाओं के साथ बारिश की बौछारें पड़ने लगीं। इससे सभास्थल पर पीएम मोदी के इंतजार में जुटी भीड़ तितर-बितर होने लगी। लोग मैदान छोड़ इधर-उधर दुकानों में, पेड़ों के नीचे जा बैठे। दोपहर करीब एक बजे बारिश रुकी तो एक बार फिर मैदान में लोग जुटने लगे। कुछ ही देर में फिर अच्छी-खासी भीड़ जमा हो गयी थी। लेकिन, मौसम का मिजाज लगातार बदलता रहा। कभी तेज हवाओं तो कभी बूंदाबांदी के चलते पीएम की सभा पर अनिश्चितता के बादल गहराने लगे थे।

दोपहर करीब दो बजे बारिश थमते ही भाजपा नेताओं ने सभा शुरू कर दी, ताकि लोग पीएम मोदी के आने तक डटे रहें। जिलाध्यक्ष शिव अरोरा ने संबोधन शुरू किया। इस बीच सांसद भगत सिंह कोश्यारी, मंत्री यशपाल आर्य, धन सिंह रावत, विधायक सौरभ बहुगुणा, हल्द्वानी मेयर डॉ. जोगेंद्रपाल सिंह रौतेला और काशीपुर मेयर ऊषा चौधरी मंच पर पहुंच गये। तीन बजे तक पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, रमेश पोखरियाल निशंक, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, प्रदेश महामंत्री गजराज बिष्ट, भाजपा प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू, केंद्रीय मंत्री अजय टम्टा, मंत्री यशपाल आर्य, सतपाल महाराज, मदन कौशिक, विधायक संजीव आर्य, मंत्री अरविंद पांडेय, विधायक बंशीधर भगत, नवीन दुम्का, मंत्री रेखा आर्या, सुबोध उनियाल, हरक सिंह रावत भी मंच पर आ गये थे। सभी नेताओं के संबोधनों के बीच पीएम मोदी के जल्द पहुंचने की बात कही जाती रही। 

शाम चार बजे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी सभास्थल पर पहुंच गये। इसके बाद पीएम मोदी के भी आने की उम्मीद लोगों में जगी। लेकिन इस बीच हल्की बूंदाबांदी के चलते करीब एक घंटे बाद शाम पांच बजे मंच से घोषणा की गयी कि पीएम मोदी अब रुद्रपुर नहीं आ पा रहे हैं। मोबाइल पर उनके संबोधन की घोषणा की गयी। इसके बाद शाम 05:08 बजे पीएम ने मोबाइल पर संबोधन प्रारंभ किया।

सड़कों पर मोदी की झलक को डटे
दोपहर बाद लोगों को यह जानकारी मिली कि मौसम खराब होने से हेलीकॉप्टर की लैंडिंग में दिक्कत के चलते पीएम नरेंद्र मोदी रामनगर से सड़क मार्ग से रुद्रपुर आने वाले हैं। ऐसे में रुद्रपुर की सड़कों पर लोगों की भीड़ पीएम की झलक पाने को डट गयी। पुलिसकर्मियों को व्यवस्था बनाने में खासी मशक्कत करनी पड़ी।

लंबे होते गये नेताओं के भाषण
मौसम खराब होने के बावजूद जनता पीएम मोदी को सुनने के लिये मैदान में जुटी रही। लेकिन, सुबह से जमे लोगों को दोपहर बाद तक बांधे रखना भाजपा नेताओं के लिये चुनौती सा बन गया। पीएम मोदी के आने को लेकर बार-बार मंच से जानकारी दी जाती रही, ताकि लोग लौट नहीं जायें। इस दौरान लोगों को बांधे रखने के लिये स्थानीय नेताओं के भाषण भी लंबे होते गये। कोशिश थी कि पीएम के आने तक स्थानीय नेता मंच संभाले रखें।

लोगों को पार्किंग में रोका
महारैली में भारी संख्या में लोगों के आने की उम्मीद को देखते हुये प्रशासन की ओर से वाहनों के पार्किंगस्थल तय किये गये थे। मौसम बदलने पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने पार्किंगस्थलों पर ही सभा में शामिल होने आये लोगों को रोक दिया। कोशिश थी कि लोग बारिश के दौरान वाहनों में ही रहें, ताकि किसी तरह की परेशानी न हो।

रामनगर से रुद्रपुर तक तैनात रहे जवान
हेलीकॉप्टर के उड़ान नहीं भर पाने की जानकारी के बीच शाम करीब चार बजे पीएम नरेंद्र मोदी को रामनगर के धनगढ़ी से वाया रोड रुद्रपुर जाने की तैयारी कर ली गयी थी। प्रशासनिक स्तर पर सूचना के बाद पुलिस ने सड़कों पर बैरिकेडिंग कर ली थी। रामनगर से रुद्रपुर तक सभी जगह सड़कों पर पुलिसकर्मी तैनात कर दिये गये थे। लेकिन सड़क से जाने में करीब दो घंटे का समय लगने की आशंका थी। जानकारी के अनुसार खराब मौसम और अंधेरा होने की आशंका में इसे टाल दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:PM Narendra Modi rally in Uttarakhand