ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंड'उत्तराखंड में सुरंग से मजदूरों के निकलते देख बहुत भावुक हो गए थे पीएम मोदी'

'उत्तराखंड में सुरंग से मजदूरों के निकलते देख बहुत भावुक हो गए थे पीएम मोदी'

उत्तराखंड में मंगलवार शाम जब मजदूरों का रेस्क्यू ऑपरेशन चल रहा था। पीएम मोदी इधर कैबिनेट बैठक में कई अहम फैसला करना वाले थे। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि पीएम मोदी इस दौरान भावुक थे।

'उत्तराखंड में सुरंग से मजदूरों के निकलते देख बहुत भावुक हो गए थे पीएम मोदी'
Sudhir Jhaएएनआई,नई दिल्लीWed, 29 Nov 2023 04:15 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड में मंगलवार शाम जब मजदूरों का रेस्क्यू ऑपरेशन चल रहा था। पीएम मोदी इधर कैबिनेट बैठक में कई अहम फैसला करना वाले थे। कैबिनेट बैठक के दौरान भी रेस्क्यू ऑपरेशन को लेकर बातचीत हुई और पीएम मोदी इस दौरान बेहद भावुक थे। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान यह जानकारी दी। सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी ने कैबिनेट सदस्यों के साथ रैस्क्यू ऑपरेशन को लाइव देखा।

अनुराग ठाकुर से पूछा गया था कि कल शाम जब मजदूरों का रेस्क्यू किया जा रहा था तो उस वक्त कैबिनेट की बैठक थी, क्या पूरी कैबिनेट ने इसे देखा? केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने कहा, 'एक बात तो जरूर में कहूंगा, आपने ठीक कहा कैबिनेट में यह विषय भी आया। प्रधानमंत्री जी बहुत भावुक भी थे। पूरे देश की दुआ साथ थी और एक-एक जान बचाने के लिए पूरा प्रयास किया गया। पीएम चुनाव प्रचार के दौरान भी दिन में कम से कम दो बार जानकारी लेते थे। उत्तराखंड की सरकार से बात करते थे और पीएमओ के अधिकारी भी वहां थे। दुनियाभर से जो भी सहायता ली जा सकती थी वह ली गई।'

केंद्रीय मंत्री ने सुरंग में मजदूरों का नेतृत्व करने वाले गबर सिंह का जिक्र करते हुए कहा कि एक टीम स्प्रिट क्या होती है, नेतृत्व क्षमता क्या होती है, यह भी श्रमिक भाइयों ने दिखाया। गबर सिंह नेगी ने कहा कि सबसे सीनियर होने की वजह से अंत में निकलेंगे। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के मन में श्रमिकों के लिए कितना सम्मान है यह कई बार दिख चुका है। उन्होंने कहा, 'चाहे संसद भवन बनाया हो या काशी विश्वनाथ या कर्तव्य पथ, पीएम मोदी ने हमेशा श्रमिकों के साथ मिलकर ना सिर्फ फोटो खिंचवाए बल्कि कई बार उनके पैर धोए। यह अपने आप में दिखाता है कि उनके लिए राष्ट्र निर्माण करने वालों के लिए क्या महत्व है।' ठाकुर ने यूक्रेन, लीबिया और अफगानिस्तान का जिक्र करते हुए कहा कि विदेशों में भी एक-एक भारतीय की जान की चिंता की गई और संकट से निकालकर उनको लाया गया। 

गौरतलब है कि उत्तरकाशी जिले में निर्माणाधीन सुरंग में मलबा गिरने से 41 मजदूर फंस गए थे। 17 दिन तक चले अभियान के बाद उन्हें सुरक्षित निकाला गया। पीएम मोदी ने देर रात सभी श्रमिकों से फोन पर बातचीत भी की और कहा कि वे इतने खुश हैं कि शब्दों में बता नहीं सकते हैं। पीएम मोदी पूरे रेस्क्यू के दौरान हर दिन उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से बात करते थे। पीएमओ के कई अधिकारी भी अभियान का हिस्सा थे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें