अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पिथौरागढ़ में हर साल खड़ी हो रही है 10 हजार बेरोजगारों की फौज

unemployed

पिथौरागढ़ में हर साल 10 हजार से अधिक बेरोजगारों की फौज तैयार हो रही है। इसके बावजूद उन्हें सरकारी नौकरी के लिए भटकना पड़ रहा है।

सीमांत जनपद में 62744 बेरोजगार नौकरी की उम्मीद लगाए हुए हैं। जिसमें 39621 पुरूष व 23123 महिला बेरोजगार शामिल हैं। जनपद में जिला सेवायोजन कार्यालय में हर साल औसत 10 हजार से अधिक बेरोजगार रोजगार की उम्मीद में लंबी लाइन लगाकर अपना पंजीकरण कराते हैं। इसके बावजूद उनकी सेवायोजन विभाग से सरकारी नौकरी की उम्मीद पूरी नहीं हो पा रही है। सेवायोजन कार्यालय के आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2015से अभी तक केवल 795 लोगों को प्रदेश की विभिन्न कंपनियों में रोजगार दिया गया है।

इस एक साल में कंपनियों में  नौकरी का यह औसत भी 198के आसपास सीमित है।यही हाल प्रदेश के अन्य जनपदों का भी है।सेवायोजन कार्यालय के संचालन में भले ही सरकार हर साल करोड़ों खर्च कर रही है, लेकिन यहां के बेरोजगार नौजवानों के रोजगार के लिए यह महकमा किसी काम का नहीं आ पा रहा है। पंजीकरण  व नवीनीकरण तक सेवायोजन कार्यालय की भूमिका सीमित होकर रह गई है।

पिथौरागढ़ सेवायोजन कार्यालय में पंजीकृत बेरोजगारों का विवरण

वर्ष पंजीकरण
2015 10943
2016 10826
2017 10387
2018 अब तक 6432
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pithoragarh is standing every year in the army of 10 thousand unemployed