ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडभारत से नेपाल जाने वाले लोगों को मिली खास सौगात, अब वहां भी यूपीआई से कर सकेंगे भुगतान

भारत से नेपाल जाने वाले लोगों को मिली खास सौगात, अब वहां भी यूपीआई से कर सकेंगे भुगतान

इस सेवा का लाभ उठाने के लिए भारतीय उपयोगकर्ताओं को फोनपे या विम ऐप में अंतर राष्ट्रीय यूपीआई भुगतान सक्रिय करना होगा। इसके बाद वे नेपाल आने पर फोन पे क्यूआर को स्कैन करके भुगतान कर सकेंगे। 

भारत से नेपाल जाने वाले लोगों को मिली खास सौगात, अब वहां भी यूपीआई से कर सकेंगे भुगतान
Himanshu Kumar Lallझूलाघाट। सुरेन्द्र आर्याFri, 01 Mar 2024 01:29 PM
ऐप पर पढ़ें

भारत से नेपाल जाने वाले लोग अब वहां यूपीआई से भुगतान कर सकेंगे। नेपाल के पेमेंट ऑपरेटर फोनपे और भारत के नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) के बीच हुए समझौते के बाद आम जन के लिए यह सुविधा शुरू कर दी गई है।

अब वह यूपीआई (UPI) से  भी रुपये  खर्च  कर सकेंगे। भारत से रोज बड़ी संख्या में नेपाल के बाजारों में लोग खरीदारी के लिए आते हैं। ऑन लाइन भुगतान की सुविधा नहीं मिलने से वहां खरीदारी को जाने वाले लोगों को कई तरह की दिक्कत का सामना करना पड़ता था।

अब भारत में में जो लोग वीआईएम यूपीआई और फोनपे भुगतान सेवा प्रदाता प्लेटफॉर्म का उपयोग कर रहे हैं, वे नेपाल में क्यूआर के माध्यम से भुगतान कर सकेंगे। इस सेवा का लाभ उठाने के लिए भारतीय उपयोगकर्ताओं को फोनपे या विम ऐप में अंतर राष्ट्रीय यूपीआई भुगतान सक्रिय करना होगा।

इसके बाद वे नेपाल आने पर फोन पे क्यूआर को स्कैन करके भुगतान कर सकेंगे। इस सेवा के शुरू हो जाने के बाद रोज भारत से नेपाल में आने वाले 800 से अधिक लोगों को इसी सीमा क्षेत्र के बाजारों में मनचाहे तरीके से आन लाइन भुगतान का लाभ मिलेगा।

इधर नेपाल संचार कंपनी के प्रभारी लोकेश साउद ने कहा भारतीय पर्यटकों को इस सुविधा से काफी लाभ होगा। कहा कि अभी भी नेपाली नागरिकों को यूपीआई सहित अन्य ऑन लाइन भुगतान के लिए इंतजार करना होगा।

यह भी जानें
यूपीआई एक ऐसा सिस्टम है जिससे भुगतान तत्काल किया जाना ऑन लाइन संभव है। इसकी मदद से मोबाइल प्लेटफार्म पर दो पक्ष एक-दूसरे को पैसे का लेनदेन कर सकते हैं।

नेपाल के दो हजार से अधिक पूर्व सैनिकों को मिलेगा लाभ
भारत की सेना से सेवानिवृत्त करीब दो हजार से अधिक नेपाल के पूर्व सैनिक पेंशनर्स को इस सेवा का लाभ अपने देश में खरीदारी करने में मिलेगा। वे बिना बैंक आए ही हर माह यूपीआईसी से खरीदारी नेपाल में ही कर सकेंगे। बता दें कि झूलाघाट, जौलजीबी, धारचूला में नेपाल के करीब 2 हजार से अधिक पूर्व सैनिक पेंशनर्स अपनी पेंशन लेने आते हैं। यूपीआईसी से भुगतान की सुविधा मिलने के बाद उन्हें भी राहत मिलेगी।

नेपाली नागरिक अभी अपने देश में नहीं उठा पाएंगे लाभ
अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मिल रही सुविधा के तहत भुगतान के दौरान लिया जाने वाला सेवा शुल्क वॉलेट और वित्तीय संस्थान स्वयं निर्धारित कर सकेंगे। भारतीय ग्राहक नेपाल में भुगतान कर सकेंगे, लेकिन नेपाली ग्राहकों को अभी इसमें समय लगेगा।


 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें