pension scheme for labours would be commenced from february 15 in uttarakhand - खुशखबरी: श्रमिकों के लिए पेंशन योजना 15 फरवरी से होगी शुरू DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुशखबरी: श्रमिकों के लिए पेंशन योजना 15 फरवरी से होगी शुरू

असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए तीन हजार की पेंशन योजना अटल पेंशन योजना की तर्ज पर चलेगी। यह योजना पूरे देश में 15 फरवरी से शुरू हो रही है। योजना का लाभ 18 से 40 वर्ष की आयु वाले अधिकतम 15 हजार रुपये महीना कमाने वाले श्रमिकों को मिलेगा। योजना के लिए उन्हें जिला श्रम विभाग में पंजीकरण करना होगा। साथ ही बैंक खाते को भी योजना से लिंक करवाना होगा। उन्हें 60 वर्ष की आयु पूरी करने पर तीन हजार रुपये पेंशन मिलेगी। केंद्रीय बजट में प्रधानमंत्री श्रम योगी महाधन योजना का ऐलान किया गया था, जिसमें श्रमिकों को तीन हजार रुपये की पेंशन देने का प्रावधान है। केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्रालय  ने योजना का विस्तृत रूपरेखा जारी कर दी है। योजना को लागू करनी की जिम्मेदारियां भी तय कर दी गई हैं। मंगलवार शाम पांच बजे केंद्र की ओर से राज्यों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए योजना का पूरा खाका रखा गया। साथ ही निर्देश दिए गए कि योजना को 15 फरवरी से लागू करते हुए पंजीकरण शुरू किए जाएं। यह योजना पूरी तरह ऑनलाइन भी होगी, जिसे पोटर्ल और मोबाइल एप के जरिए संचालित किया जा सकेगा। ईपीएफओ के क्षेत्रीय कमिश्नर मनोज यादव ने बताया कि उनके कार्यालय में भी 15 फरवरी से पंजीकरण के लिए हेल्प डेस्क स्थापित की जाएगी। 

ऐसे होंगे योजनों में शामिल : योजना में शामिल होने के लिए से एक फार्म मिलेगा। जिसे आधार, फोटो और बैंक खाता संख्या के साथ भरकर जमा करना होगा। यहां आपको पंजीकरण संख्या मिलेगी, जो आपको अपने बैंक शाखा में जमा कर अपने बचत खाते को लिंक करवानी होगी।


ऐसे मिलेगी पेंशन
प्रधानमंत्री श्रम योगी महाधन योजना में पेंशन एलआईसी के पेंशन फंड से मिलेगी। योजना में शामिल होने के लिए जितनी कम उम्र होगी, उतना ही कम हिस्सा जमा करना होगा। जितनी रकम श्रमिक जमा करेगा, उतनी रकम केंद्र सरकार पेंशन फंड में देगी। पेंशन के लिए 60 वर्ष की उम्र तक अंशदान करना होगा। फिर तीन हजार रुपये पेंशन मिलेगी। 18 वर्ष की उम्र में आवेदन करने पर महीने के 55 रुपये जमा करने होंगे, जबकि 40 वर्ष की उम्र में योजना में शामिल होने पर 60 साल तक हर महीने 200 रुपये देने होंगे।  

यहां मिलेंगे पेंशन फार्म 
पेंशन के लिए आवेदन फार्म एलआईसी के ब्रांच ऑफिस, एलआईसी एजेंट, ईपीएफओ के फील्ड ऑफिसर, ईएसईसी  फील्ड स्टॉफ के साथ ही जिला श्रम कार्यालय से मिलेंगे। 

पारिवारिक पेंशन का प्रावधान
योजना में शामिल श्रमिक की मौत 60 वर्ष के बाद होती है तो आश्रित को 1500 रुपये पारिवारिक पेंशन मिलेगी।  जबकि 60 साल से पहले मृत्यु पर इस योजना में अंशदान का सीधे हक पत्नी को मिल जाएगा और पत्नी को 60 साल के बाद पेंशन मिलेगी।  

ऑटो-डेबिट होगी रकम
एक बार पेंशन खाता और बैंक खाता लिंक करने के बाद हर महीने खुद ही बैंक एकाउंट से पेंशन फंड की रकम कट जाएगी। इतनी ही रकम सरकार भी आपके पेंशन फंड में जमा कर देगी। 

ये श्रमिक हो पाएंगे शामिल
इस योजना का फायदा घर से ही काम करने वाले, घरेलू नौकर, रेहड़ी-फड़ ठेली लगाने वाले, कुली, भट्टा मजदूर, मोची, धोबी, श्रमिक, रिक्शा वाले, बीड़ी मजदूर, हैंडलूम मजदूर, लेदर का काम करने वाले, कृषि श्रमिक, निर्माण में लगे मजदूर समेत अन्य शामिल हैं।  
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:pension scheme for labours would be commenced from february 15 in uttarakhand