ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडपहाड़ों में भी मरीजों को मिलेगा बेहतर इलाज, सुपर स्पेशलिस्ट डॉक्टरों पर यह हो रही तैयारी

पहाड़ों में भी मरीजों को मिलेगा बेहतर इलाज, सुपर स्पेशलिस्ट डॉक्टरों पर यह हो रही तैयारी

उत्तराखंड के मेडिकल कॉलेजों में सुपर स्पेशलिटी सेवाओं को बढ़ावा देने के लिए फैकल्टी का वेतनमान दोगुना से अधिक करने का फैसला लिया है। सीएम पुष्कर सिंह धामी सरकार ने इसको लेकर तैयारी कर ली है।

पहाड़ों में भी मरीजों को मिलेगा बेहतर इलाज, सुपर स्पेशलिस्ट डॉक्टरों पर यह हो रही तैयारी
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तानSun, 07 Jan 2024 10:21 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड के मेडिकल कॉलेजों में सुपर स्पेशलिटी सेवाओं को बढ़ावा देने के लिए फैकल्टी का वेतनमान दोगुना से अधिक करने का फैसला लिया है। चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने शनिवार को सचिवालय में अफसरों की बैठक ली। जिसमें राज्य के मेडिकल कॉलेजों में सुपर स्पेशलिटी सेवाओं को बढ़ाने के निर्देश दिए गए।

इसके लिए इन सेवाओं के लिए वेतनमान भी आकर्षक बनाने का निर्णय लिया गया है। रावत ने कहा कि मेडिकल कॉलेजों में कार्डियोलॉजी, यूरोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, रेडियोलॉजी, न्यूरो सर्जरी और प्लास्टिक और बर्न सर्जरी की फैकल्टी का वेतनमान दोगुना से अधिक करने के निर्देश दिए गए हैं। चिकित्सा शिक्षा विभाग को इसका प्रस्ताव कैबिनेट में लाने को कहा गया है।

विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर और प्रोफेसर पद के लिए आवेदन की अधिकतम आयु सीमा को भी बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। राज्य में अभी एसोसिएट प्रोफेसर और प्रोफेसर के लिए आवेदन की अधिकतम आयु सीमा 50 साल है जिसे अब बढ़ाकर 62 साल किया जा रहा है। हालांकि असिस्टेंट प्रोफेसर पद के लिए आवेदन की अधिकतम आयु सीमा पूर्व की भांति 45 साल ही रहेगी।

सुपर स्पेशलिस्ट फैकल्टी का प्रस्तावित वेतन
पर्वतीय क्षेत्र 

प्रोफेसर को 2.14 लाख मिलते हैं जो अब पांच लाख रुपये महीना होगा। एसोसिएट प्रोफेसर का वेतन 1.84 लाख से बढ़ाकर चार लाख किया जाएगा। असिस्टेंट प्रोफेसर को 1.42 लाख की जगह तीन लाख रुपये मिलेंगे। जबकि सीनियर रेजीडेंट को 90 हजार की जगह दो लाख मिलेंगे।

मैदानी क्षेत्र 
प्रोफेसर को 1.43 लाख रुपये मिलते हैं जो अब चार लाख रुपए महीना मिलेगा। एसोसिएट प्रोफेसर का वेतन 1.23 लाख से बढ़ाकर तीन लाख किया जाएगा। असिस्टेंट प्रोफेसर को 95 हजार की जगह ढाई लाख रुपये मिलेंगे। जबकि सीनियर रेजीडेंट को 84 हजार की जगह डेढ़ लाख रुपये दिए जाएंगे।.

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें