ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडबार-बार मना करने पर भी बॉयफ्रेंड से मिलती रही बेटी, मां-बाप ने कर दी हत्या

बार-बार मना करने पर भी बॉयफ्रेंड से मिलती रही बेटी, मां-बाप ने कर दी हत्या

माता पिता ने अपनी बेटी का स्कार्फ से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद उन्होंने चुपचाप बेटी को शव को कब्रिस्तान में दफना भी दिया और उसके आत्महत्या करने की अफवाह फैला दी। 

बार-बार मना करने पर भी बॉयफ्रेंड से मिलती रही बेटी, मां-बाप ने कर दी हत्या
Aditi Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,हल्द्वानीMon, 26 Feb 2024 07:24 PM
ऐप पर पढ़ें

कहते हैं एक बच्चे का भला उसके मां बाप से बढ़कर और कोई नहीं चाह सकता। लेकिन क्या हो जब मां बाप ही अपने बच्चे की जान के दुश्मन बन जाएं। ऐसा ही एक मामला उत्तराखंड के हल्द्वानी से सामने आया है जहां माता पिता पर उनका गुस्सा इस कदर हावी हो गया कि उन्होंने अपनी ही 15 साल की बेटी की हत्या कर दी। मामला उधम सिंह नगर के रुद्रपुर का बताया जा रहा है। माता पिता ने अपनी बेटी का स्कार्फ से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी।  इसके बाद उन्होंने चुपचाप बेटी को शव को कब्रिस्तान में दफना भी दिया और उसके आत्महत्या करने की अफवाह फैला दी। 

पुलिस को जैसे ही मामले की भनक लगी, तुरंत एक टीम कब्रिस्तान पहुंच गई और दफनाए गए शव को बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम के बाद पुलिस को पता चला कि लड़की की गला घोंटकर हत्या की गई है। इसके बाद पुलिस ने मामले की जांच की और जल्द ही  माता पिता को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने वो स्कार्फ भी बरामद कर लिया जो गला घोंटने के लिए इस्तेमाल किया गया था। 

घटना 24 फरवरी की बताई जा रही है। पुलिस ने सोमवार को मामले की जानकारी देते हुए बताया कि उन्हें खबर मिली थी कि एक नाबालिग लड़की की हत्या कर उसका शव कब्रिस्तान में दफना दिया गया है। जैसे ही जानकारी मिली, सब इंस्पेक्टर नवीन बुधानी कब्रिस्तान पहुंचे और शव को बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। रुद्रपुर की सर्कल ऑफिसर निहारिका तोमर ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि लड़की की गला घोंटकर हत्या की गई है। इसके बाद उसके माता पिता को पूछताछ के लिए बुलाया गया जहां उन्होंने अपनी बेटी की हत्या की बात स्वीकार कर ली। 

क्यों की हत्या?

शुरुआती जांच के मुताबिक लड़की का उसके पड़ोस में रहने वाले 25 साल के लड़के के साथ अफेयर चल रहा था और माता-पिता इसके खिलाफ थे। माता-पिता बेटी को पहले भी काफी बार लड़के से दूर रहने के लिए कह चुके थे लेकिन इसके बावजूद वो उससे मिलती रही। घटना वाले दिन भी वो लड़के से मिलने गई थी। इसी बात से गुस्से में आकर माता-पिता ने बेटी की हत्या कर दी और उसके शव को बिलासपुर में कब्रिस्तान मे दफना दिया। इसके बाद उन्होंने पुलिस से बचने के लिए आत्महत्या की अफवाह भी फैला दी।

तोमर ने बताया कि माता पिता को सोमवार को गिरफ्तार किया गया। उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 302 और 201 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। बाद में उन्हें कोर्ट में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। 
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें