DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चेतावनी: देरी से दाखिला लेने पर मेरिट में घटेंगे नंबर

श्रीदेव सुमन विवि की शैक्षिक परिषद में गैप ईयर में दाखिला लेने वाले छात्रों के लिए बड़ा निर्णय लिया गया।  विवि ने गैप ईयर होने पर स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में दाखिला स्वीकार करने पर हामी तो भर दी है, लेकिन हर साल पांच नंबर काटने की शर्त पर। दरअसल, अब तक विवि में 12वीं के बाद मात्र दो साल का गैप होने पर शपथ पत्र के आधार पर दाखिला स्वीकारना तय किया था, लेकिन अब हर साल देरी पर छात्र के कुल अंकों में से पांच नंबर काट कर उसकी मेरिट तय की जाएगी। गुरुवार को श्रीदेव सुमन विवि के कैंप कार्यालय में आयोजित बैठक में कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव पेश किए गए। हालांकि इन प्रस्तावों पर शुक्रवार को कार्य परिषद की बैठक में आखिरी मुहर लगेगी। नए होने चलते विवि का पाठ्यक्रम नए सिरे से डिजाइन किया गया है। हालांकि, इसमें लगातार सुधार के लिए भी दरकार की जा रही है। विवि ने विभिन्न विषयों के पाठ्यक्रमों में सुधार करने के लिए प्रो. बीएस बिष्ट की अध्यक्षता में समिति बनाई। इसमें डा. एसएस रावत, डा. एके तिवारी, डा. डीसी नैनवाल, डा. जीएस रजवार, डा. अंजू अग्रवाल शामिल हैं। कुलसचिव डा. दीपक भट्ट ने बताया कि सुधार के बाद पाठ्यक्रम पर अंतिम मुहर जनवरी महीने में लगेगी। परिषद की बैठक में श्रीदेव सुमन विवि के कुलपति  डा. यूएस रावत, कुलसचिव डा. दीपक भट्ट, परीक्षा नियंत्रक दिनेश चंद्र, बीएस बिष्ट, पूर्व उच्च शिक्षा निदेशक डा. डीसी नैनवाल, डा. एके तिवारी, डा. केएल मालगुड़ी, प्रो. एसए रावत, प्रो. जीएस रजवार आदि ने विचार रखे।

बीएससी कृषि के लटके परिणाम जारी होंगे
विवि से संबद्ध चार कॉलेजों में सत्र 2017-18 के बीएससी कृषि के छात्रों के परीक्षा परिणाम अभी तक जारी नहीं हो सके हैं। देहरादून के माया कॉलेज, फोनिक्स कॉलेज, रुड़की और विद्या विकासनी डिग्री कॉलेज नारसन में पढ़ रहे 60 से ज्यादा छात्र अपने परिणाम को लेकर चक्कर काट रहे हैं। विवि कुलसचिव डा. दीपक भट्ट ने बताया कि तकनीकी कारणों से परिमाण समय पर जारी नहीं किए जा सके थे, अब परिणामों को तैयार हो गया है। तीन से चार दिनों में जारी कर दिए जाएंगे। 
इन विषयों के पाठ्यक्रम तैयार
संस्कृत, सांख्यिकी, अंग्रेजी, मनोविज्ञान, बीएससी एवं एमएससी गृहविज्ञान, हिंदी, इतिहास, भूगोल, समाजशास्त्र, अर्थशास्त्र, राजनीतिशास्त्र, सैन्य विज्ञान, दर्शन शास्त्र, शिक्षा शास्त्र, रसायन विज्ञान, जंतु विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, भौतिक विज्ञान, गणित, भूगर्भ विज्ञान, पर्यावरण विज्ञान, बॉयोटेक, माइक्रोबॉयोलॉजी, बीकॉम आनर्स, संगीत, ड्राइंग एवं पेंटिग, मानव विज्ञान। 

शुरू होंगे व्यावसायिक कोर्स
श्रीदेव सुमन विवि साल 2018-19 से रोजगार को बढ़ावा देने के लिए व्यावसायिक पाठ्यक्रम शुरू करने जा रहा है। डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स शुरू किए जाएंगे। होटल मैनेजमेंट, वाटर स्पोर्ट्स, योग, आपदा प्रबंधन, सामाजिक कार्य प्रबंधन समेत अन्य कोर्स शुरू होंगे। 

बीए बुद्धिज्म में सालाना परीक्षा
विवि ने प्रदेश में बौद्ध धर्म की पढ़ाई को बढ़ावा देने के लिए बीए बुद्धिज्म पाठ्यक्रम शुरू किया है। इसके तहत बीए बुद्धिस्ट स्टडी, तिब्बतियन भाषा एवं साहित्य की पढ़ाई शुरू की गई है। कुलपति डा. यूएस रावत ने बताया कि इन पाठ्यक्रमों में सालाना पाठ्यक्रम लागू किया जाएगा। 

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:number to be deducted in merit if students enrolled late in colleges