DA Image
Saturday, December 4, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंडकोरोना केस नहीं फिर भी पिथौरागढ़ में नाइट कर्फ्यू, गुलदार का आतंक-नहीं पहुंचे शिकारी

कोरोना केस नहीं फिर भी पिथौरागढ़ में नाइट कर्फ्यू, गुलदार का आतंक-नहीं पहुंचे शिकारी

हिन्दुस्तान टीम, पिथौरागढ़ Himanshu Kumar Lall
Mon, 27 Sep 2021 02:35 PM
कोरोना केस नहीं फिर भी पिथौरागढ़ में नाइट कर्फ्यू, गुलदार का आतंक-नहीं पहुंचे शिकारी

गुलदार के आदमखोर घोषित हुए चार दिन बाद भी शिकारी जिला मुख्यालय नहीं पहुंचे हैं। लोगों की सुरक्षा के लिए प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू लगाया हुआ है। वहीं गुलदार के बार-बार आबादी के पास दस्तक दे रहा है। इससे लोग डरे हुए हैं। विभाग ने गुलदार को पकड़ने को पिंजरा तो लगाया है, लेकिन गुलदार कैद होना तो दूर आसपास फटक भी नहीं रहा।  सीमांत के लोगों के लिए गुलदार मुसीबत बन गए हैं। गुलदारों की दहाड़ से आमजन डरा हुआ है तो दूसरी तरफ प्रशासन लाचार नजर आ रहा हैं।

हालांकि लोगों की सुरक्षा के लिए प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू लगाया हुआ है, लेकिन गुलदार कभी घरों के आंगन में तो कभी खेतों में दिखाई दे रहे हैं। आदमखोर घोषित गुलदार की मौत से लोगों को राहत जरूर मिलेगी। लेकिन नैनीताल से शिकारी हरीश धामी जिला मुख्यालय नहीं पहुंचे हैं। वन विभाग रविवार तक उनके पहुंचने की संभावना जता रहा था।

लेकिन आज भी शिकारी नहीं पहुंचे। हिन्दुस्तान से बातचीत में शिकारी धामी ने बताया कि व्यक्तिगत कारण होने से वे सीमांत जनपद नहीं पहुंच सके हैं। कहा विभागीय अधिकारियों से नियमित संपर्क में हैं और उनसे गुलदार की हर मूवमेंट की जानकारी ले रहे हैं। जल्द ही वे जनपद पहुंच जाएंगे। 

पिंजरे के आसपास भी नहीं फटक रहा गुलदार:वन विभाग ने गुलदार को पकड़ने के लिए बजेटी क्षेत्र में पिंजरा लगाया हुआ है। बकाएदा एक बकरी भी पिंजरे में डाली है, लेकिन गुलदार पिंजरे के आसपास भी नहीं फटक रहा। जबकि क्षेत्र में आए दिन लोगों को गुलदार दिखाई दे रहा है। 
 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें