DA Image
20 सितम्बर, 2020|4:02|IST

अगली स्टोरी

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते पूरी तरह वर्चुअल हो सकता है मानसून सत्र, 23 से है प्रस्तावित सत्र

विधानसभा का मानसून सत्र पूरी तरह वर्चुअल हो सकता है। विस सचिवालय संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए वर्चुअल सत्र की तैयारी कर रहा है। विधानसभा का सत्र 23 सितंबर से शुरू होना है। कोरोना की वजह से सत्र के आयोजन को लेकर कई विकल्पों पर विचार हो रहा है। दरअसल विधानसभा का सभामंडप छोटा है।

वहां सोशल डिस्टेसिंग के साथ बैठने के लिए जगह नहीं है। शुरू में पत्रकार और दर्शक दीर्घा तक मंडप के विस्तार की योजना थी पर हाल में भाजपा अध्यक्ष व एक विधायक के कोरोना संक्रमित हो जाने के बाद अब वर्चुअल विधानसभा सत्र के आयोजन पर विचार चल रहा है। 

पक्ष-विपक्ष के साथ बैठक करेंगे स्पीकर : विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल सत्र के स्वरूप और आयोजन को लेकर सत्ता पक्ष तथा विपक्ष के साथ बैठक कर सकते हैं। विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल ने बताया कि सभी संभावनाओं पर विचार हो रहा है। इस संदर्भ में विधानसभा अध्यक्ष को सभी संभावनाओं से अवगत कराया जा रहा है। उसके बाद उनकी ओर से ही सत्र को लेकर अंतिम निर्णय लिया जाएगा। 


सफल रहा वर्चुअल ट्रायल 
विधानसभा में सोमवार को वर्चुअल विधानसभा का ट्रायल किया गया। विधानसभा के सूत्रों ने बताया कि ट्रायल पूरी तरह सफल रहा है। विधानसभा सचिवालय कई वीडियो कांफ्रेंसिंग एप पर विचार कर रहा है जिनके जरिए विधायकों को ऑनलाइन जोड़ा जा सकता है। विधायकों को ऑनलाइन जोड़ने के लिए विधानसभा में स्क्रीन लगाने पर भी विचार किया जा रहा है ताकि प्रतिभाग करने वाले सदस्य कार्यवाही को देखने के साथ ही अपनी ऑनलाइन उपस्थिति भी दे सकें। 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:monsoon assembly session from september 23 can be virtual amid corona virus pandemic in uttarakhand