ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडउत्तराखंड में मैक्स टैक्सी गहरी खाई में गिरी, दो बच्चों समेत छह यात्रियों की मौत; 5 घायल 

उत्तराखंड में मैक्स टैक्सी गहरी खाई में गिरी, दो बच्चों समेत छह यात्रियों की मौत; 5 घायल 

मैक्स के गहरी खाई में गिरने से छह यात्रियों की मौक पर ही मौत हो गई, जिसमें दो बच्चे चार महिला-पुरुष बताए हैं। हादसे के बाद पुलिस ने रेस्क्यू शुरू कर दिया है। शव और अन्य घायलों को खाई से बाहर निकाला।

उत्तराखंड में मैक्स टैक्सी गहरी खाई में गिरी, दो बच्चों समेत छह यात्रियों की मौत; 5 घायल 
Himanshu Kumar Lallभीमताल, हिन्दुस्तानWed, 05 Jun 2024 10:30 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड में एक बार फिर दर्दनाक सड़क हादसा हुआ है। बुधवार देर शाम को नैनीताल जिले में एक मैक्स के गहरी खाई में गिरने से छह लोगों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। हादसे में पांच अन्य यात्री गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

पुलिस टीम ने मौके पर पहुंच राहत व बचाव कार्य शुरू किया। घायलों को रेस्क्यू कर नजदीकि अस्पताल में भर्ती कराया गया है। नैनीताल के ओखलकांडा ब्लॉक के दुर्गम क्षेत्र के पतलोट में बुधवार की शाम 6 बजे मैक्स वाहन खाई में गिर गया।

मैक्स के गहरी खाई में गिरने से छह यात्रियों की मौक पर ही मौत हो गई, जिसमें दो बच्चे चार महिला-पुरुष बताए हैं। हादसे के बाद पुलिस ने रेस्क्यू शुरू कर दिया है। शव और अन्य घायलों को खाई से बाहर निकाला जा रहा है। 

सीओ सुमित पांडे ने बताया मैक्स वाहन हल्द्वानी से झड़गांव पतलोट के पुटपुड़ी गांव रहा था। वाहन में कुल 11 यात्री सवार थे। झड़गांव के पास पहुंचते ही चालक ने वाहन से नियंत्रण खो दिया और वाहन सड़क से दो सौ मीटर नीचे गहरी खाई में जा गिरा।

हादसे में वाहन में सवार छह लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। ग्रामीणों ने दुर्घटना की सूचना पुलिस को दी। इसके बाद रेस्क्यू अभियान चलाकर घायलों को खाई से निकालकर घटना स्थल पर ही डॉक्टर ने प्राथमिक उपचार दिया। जिसके बाद 108 की मदद से हल्द्वानी भेजा गया।

ओखलकांडा दुर्घटना में मृतकों के नाम: 
भुवन भट्ट 35 वर्ष पुत्र कमला पति
ममता भट्ट 23 वर्ष 
उमेश परगाई 38 वर्ष
दीपा भट्ट 22 वर्ष

नवंबर में पिकअप दुर्घटना में मारे गए थे नौ लोग
ओखलकांडा ब्लॉक के गांव छीड़ाखान में बीते साल नवंबर में एक पिकअप वाहन अनियंत्रित होकर 800 मीटर गहरी खाई में गिर गया था। जिसमें सवार छह लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था। जबकि गंभीर रूप से घायलों को उपचार के लिए ओखलकांडा स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया था। तीन घायल सड़क तक पहुंचने से पहले ही मर गए थे। उस समय भी पिकअप में औसत से अधिक लोग बिठाए जाने की बात सामने आई थी।