DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेप के बाद किया मासूम बच्ची का कत्ल, हत्या, दुराचार और पोक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज

सहसपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत एक शिक्षण संस्थान के परिसर में निर्माणाधीन भवन के पास पड़ोसी की ग्यारह वर्षीय बच्ची के साथ दुराचार घटना का आरोपी पिछले पांच दिनों से योजना बना रहा था। रविवार को आरोपी ने पुलिस से पूछताछ में खुलासा किया। शनिवार को मौका मिलने पर आरोपी बच्ची को बहला फुसलाकर अपने कमरे में ले गया। जहां आरोपी ने बच्ची के साथ दुराचार किया और विरोध करने पर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। यही नहीं आरोपी ने बच्ची के मरने के बाद भी दोबारा उसके साथ दुराचार किया। पुलिस ने शिक्षण संस्थान का भी पुलिस एक्ट में चालान कर दिया है। सिंघनीवाला स्थित शिवालिक इंजीनियरिंग कॉलेज ऑफ इंस्टीट्यूट के निर्माणाधीन परिसर में बच्ची के साथ दुराचार और गला दबाकर हत्या करने के पीछे कई तथ्य सामने आये हैं। आरोपी ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि छह माह से अपनी पत्नी से दूर रह रहा था। आरोपी ने पहले एक कॉल गर्ल से संपर्क साधा। लेकिन, कॉल गर्ल ने उससे काफी रुपयों की मांग की। जिस पर उसने अपने ठेकेदार से पांच सौ रुपये मांगे। लेकिन उसमें सौ रुपये की शराब पी ली। जिससे कॉलगर्ल को देने के लिए पूरे रुपये नहीं हुए। इसके बाद आरोपी की नजर पड़ोसी की ग्यारह वर्षीय बच्ची पर पड़ी। पिछले पांच दिनों से वह बच्ची को टारगेट कर रहा था। शनिवार सुबह को जब ठेकेदार के दोनों बेटे उसे काम पर बुलाने आये तो उसने सिरदर्द का बहाना बनाकर काम पर जाने से इंकार कर दिया। आरोपी ने शनिवार को बच्ची के साथ दुराचार करने की योजना बनाई। आरोपी ने पहले शराब पी। उसके बाद बच्ची को ढूंढने निकला। तभी बच्ची इंस्टीट्यूट परिसर में अपने भाई बहनों के साथ खेलती हुई उसे मिल गयी। तीनों बच्चों को आरोपी बहला फुसलाकर अपने कमरे में ले गया। जहां दोनों छोटे बच्चों को उसने दस-दस रुपये देकर बिस्कुट खरीदने बाजार भेज दिया। इस दौरान उसने ग्यारह वर्षीय बच्ची को भी दस रुपये दिए। लेकिन दोनों बच्चों के चले जाने के बाद आरोपी ने दरवाजे बंद कर पहले तो बच्ची को मोबाइल में कुछ अश्लील चित्र दिखाये और उसके बाद दुराचार किया। जिस पर बच्ची चिल्लाने लगी तो आरोपी ने उसका गला घोंट दिया। जिससे बच्ची की मौत हो गयी। जब बच्ची मर गयी तब उसके साथ दोबारा दुराचार किया। एसओ सहसपुर नरेश राठौर ने बताया कि आरोपी ने खुद यह बात कबूली।

मृत बच्ची के शरीर में गंभीर चोटें
आरोपी ने बच्ची के साथ दुराचार किया तो उस समय छीना झपटी में बच्ची ने आरोपी के बाल नोंचे। मृत बच्ची के हाथों में उसके नोंचे हुए बाल पुलिस ने बरामद किये हैं। आरोपी ने दुराचार के दौरान बच्ची के शरीर पर गंभीर चोटें मारकर जख्मी किया। 

रात को ठिकाने लगाना था शव 
बच्ची की हत्या करने के बाद आरोपी ने उसे कमरे के अंदर सीमेंट के कट्टों और ईंटों के नीचे दबा दिया था। तब आरोपी ने योजना बनाई की रात को जब सभी सो जाएंगे तो बच्ची की लाश को नदी या जंगल में ठिकाने लगा देगा। 

सीसीटीवी से खुला राज 
परिजन जब इंस्टीट्यूट के गेट पर बच्ची को तलाशते हुए पहुंचे तो वहां लगे सीसीटीवी पर बच्ची के कहीं बाहर जाने का फुटेज नहीं मिला। जबकि बच्ची के छोटे भाई के बाहर जाने का फुटेज दिख गया। जिससे यह बात साफ हो गयी कि बच्ची कैंपस के अंदर ही है। जब आरोपी के कमरे की तलाशी ली जा रही थी तब कट्टों व ईंट हटाने पर वहां बच्ची का शव बरामद हुआ। 

आरोपी पर कैसे हुआ शक
मृत बच्ची के साथ उसके भाई और बहन ने परिजनों को बताया कि आरोपी उन तीनों को कमरे में ले गया था। जहां दोनों बच्चों को दस दस रुपये देकर बिस्कुट खरीदने भेजा। लेकिन दीदी कमरे में ही रखी। बच्चों की बात से परिजनों को आरोपी पर शक हुआ।

पूर्व में आत्महत्या का प्रयास किया था
आरोपी जयप्रकाश तिवारी शराब पीने का आदि है। उसने पारिवारिक कलह के चलते पांच वर्ष पूर्व मिट्टी तेल डालकर खुद को आग लगा आत्महत्या का प्रयास किया था। 

दुराचार और हत्या के आरोपी को भेजा जेल
सहसपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक शिक्षण संस्थान के परिसर में 11 वर्षीय  बच्ची के साथ दुराचार कर हत्या करने के आरोपी के खिलाफ पुलिस ने बच्ची के पिता की तहरीर पर हत्या और दुराचार सहित पोक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर दिया है।  रविवार को पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया। मृत बच्ची के शव का पोस्टमार्टम करने के बाद पुलिस ने शव को परिजनों को सौंप दिया है। उधर पुलिस ने आरोपी के साथ हिरासत में लिए दो अन्य युवकों को बेकसूर पाये जाने पर छोड़ दिया।  शनिवार दोपहर करीब साढ़े बारह बजे सिंघनीवाला स्थित शिवालिक इंजीनियरिंग कॉलेज ऑफ इंस्टीट्यूट के परिसर में निर्माणाधीन भवन के पास रहने वाले एक मजदूर की ग्यारह वर्षीय बेटी को पड़ोस में रहने वाले मजदूर जयप्रकाश तिवारी पुत्र रामजस तिवारी ग्राम निमकपुरा कुमारगंज जिला फैजाबाद यूपी ने अपने कमरे में बहला फुसलाकर ले गया। जहां आरोपी जयप्रकाश तिवारी ने बच्ची के साथ दुराचार कर उसकी हत्या कर दी थी। इस मामले में पुलिस ने आरोपी जयप्रकाश को शनिवार रात को ही गिरफ्तार कर दिया था। शक पर पुलिस ने दो अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया था। लेकिन आरोपी के अपराध कबूलने और हिरासत में लिए गये दोनों युवकों के बेकसूर पाये जाने के बाद पुलिस ने दोनों युवकों को छोड़ दिया। 
जबकि आरोपी जयप्रकाश तिवारी के खिलाफ मृत बच्ची के पिता की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर दिया। एसओ सहसपुर नरेश राठौर ने बताया कि आरोपी को पुलिस ने  कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है।

 
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:man strangulates young girl after rape dead body was mutilated