ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडपत्नी की फरमाइश ने छुड़ाए पति के पसीने, 56 हजार के सिक्के जमा करने के बाद अब मुराद होगी पूरी

पत्नी की फरमाइश ने छुड़ाए पति के पसीने, 56 हजार के सिक्के जमा करने के बाद अब मुराद होगी पूरी

दीपावली पर हर घर में कुछ न कुछ नया सामान लाने की परंपरा रही है। पत्नी की फरमाइश पूरी करने के लिए पति ने 56 हजार रुपये के सिक्के जमा किए। अब इन सिक्कों की मदद से पति टू व्हीलर खरीदेगा।

पत्नी की फरमाइश ने छुड़ाए पति के पसीने, 56 हजार के सिक्के जमा करने के बाद अब मुराद होगी पूरी
Himanshu Kumar Lallरुद्रपुर, वरिष्ठ संवाददाता।  Sun, 23 Oct 2022 01:24 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

दीपावली पर हर घर में कुछ न कुछ नया सामान लाने की परंपरा रही है। कई बार चाहते हुए भी लोग अपनी पसंद का सामान नहीं खरीद पाते हैं और इसका कारण होता है बड़ा सामान खरीदने लिए बड़ा बजट। वहीं गदरपुर के ग्राम कौशलपुर निवासी आकाश गुंबर ने अपनी हर दिन अल्प बचत की आदत से 56 हजार के सिक्के जमा कर लिए।

दीपावली पर अपनी पत्नी की स्कूटी (टू व्हीलर)की इच्छा उन्होंने बेहद आसानी से इन सिक्कों के जरिए पूरी की है। जब शुक्रवार को वह 40 हजार के सिक्के लेकर उनके प्रतिष्ठान में काम करने वाला कर्मी शोरूम में पहुंचा तो हर कोई दंग रह गया। इन सिक्कों को गिनने में करीब ढाई घंटे का समय लगा, लेकिन शोरूम के स्वामी समेत पूरे स्टाफ ने आकाश की इस बचत की आदत से अपने सपने को हकीकत में बदलने के हुनर की खुले दिल से तारीफ की। 

कौशलपुर गदरपुर निवासी आकाश गुंबर पुत्र प्रीतम दास गुंबर ने बताया कि उन्होंने सात साल पहले पेप्सी की एजेंसी ली थी। जब वह घर जाते थे तो जेब में रोज कुछ न कुछ सिक्के होते थे। ऐसे में उन्होंने इन्हें जमा करना शुरू किया। इस बार दीपावली में पत्नी ने स्कूटी की फरमाइश की तो उन्होंने तय किया कि इन सिक्कों को देकर वह स्कूटी खरीदेंगे।

उन्होंने अपनी एजेंसी के कर्मी को संजय टीवीएस शोरूम 40 हजार के सिक्के के साथ भेजा। शोरूम के कर्मचारियों के सामने इन सिक्कों की गिनती हुई। 40 हजार के सिक्के उन्होंने शनिवार को शोरूम में जमा कर दिए और 16 हजार के सिक्के वह रविवार को जमा करेंगे। शेष रकम के लिए वह फाइनेंस कराकर यहां से स्कूटी कल घर लाएंगे।

उन्होंने कहा कि सिक्के जमा करने में उनकी मां और पत्नी सभी का सहयोग रहा है। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति को छोटी-छोटी बचत की ओर ध्यान देना चाहिए, जिससे कि समय आने पर यही छोटी बचत बड़ी रकम बनकर हमारे काम आ सके। उनकी इस अल्प बचत की आदत की संजय टीवीएस के स्वामी विनोद कुमार ने भी प्रशंसा की। 

करीब 30 से 35 किलो सिक्कों का वजन: आकाश ने 10 और पांच के सिक्के जमा किए थे। 56 हजार के कुल सिक्कों का वजन करीब 30 से 35 किलो होगा। उन्होंने बताया कि वह किसान परिवार से हैं। उन्होंने खेती में ही प्रयोग किए जाने वाले एक बड़े ड्रम में सिक्के जमा किए थे। ऊपर से इस ड्रम को बंद कर दिया था। आज इसे खोलकर निकाला। 
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें