DA Image
1 सितम्बर, 2020|7:41|IST

अगली स्टोरी

छात्रवृत्ति घोटाला: इंस्टीट्यूट का डायरेक्टर पहुंचा जेल,एसआइटी ने किया गिरफ्तार

uttarakhand scholarship scam

समाज कल्याण विभाग में हुए एससी-एसटी छात्रवृत्ति घोटाले मामले में आरोपी सी़ वी़ रमन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के डायरेक्टर को बीते सोमवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एसएसआई प्रदीप नेगी ने बताया कि पुलिस अधीक्षक पी. रेणुका देवी द्वारा जनपद में एससी, एसटी व ओबीसी से सम्बन्धित दशमोत्तर छात्रवृति वितरण में बरती गई अनियमितताओं के सम्बन्ध में दर्ज हुये अभियोगों के शीघ्र निस्तारण हेतु समस्त थाना प्रभारियों को निर्देशित किया गया था।

जिसके तहत कोतवाली पुलिस ने सी़ वी. रमन कॉलेज में वर्ष 2004 से वर्ष 2012 के बीच एससी, एसटी व ओबीसी के छात्रों को छात्रवृति के नाम पर हुए  सोलह लाख सत्तावन हजार पांच सौ रुपये के घोटाले के आरोपी डायरेक्टर अनिल परिहार पुत्र स्व गंभीर सिंह निवासी जिला उज्जैन मध्य प्रदेश को बीते सोमवार को सत्तीचौड़ स्थित चन्द्रप्रभा आईटीआई से गिरफ्तार कर लिया है। एसएसआई प्रदीप नेगी ने बताया कि कोर्ट के समक्ष पेश करने के बाद आरोपी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। 

एससी, एसटी व ओबीसी से संबंधित छात्रवृत्ति वितरण में हुई अनियमितताओं की जांच के लिए पौड़ी जिले में एसआइटी गठित की गई थी। जांच के दौरान वर्ष 2004 से 2012 तक पदमपुर में संचालित किए जा रहे सीवी रमन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में अध्यनरत 38 छात्रों में से 32 छात्रों का सत्यापन किया गया, जिसमें यह बात सामने आई कि छात्रों का बैंक खाता नंबर, नाम व पता गलत अंकित किया गया है। मात्र दो छात्रों को ही केवल 12-12 हजार रुपए छात्रवृत्ति के नाम पर दिए गए, जबकि एक छात्र को 32500 रुपये छात्रवृत्ति दी जानी थी। 
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:man arrested under scholarship scam in uttarakhand