DA Image
14 जनवरी, 2021|12:00|IST

अगली स्टोरी

मकर संक्रांति: पहली बार श्रद्धालुओं के लिए वनवे रहेगा हरकी पैड़ी, हाईवे पर ऑटो रिक्शा और विक्रम पर प्रतिबंध

makar sankranti  oneway will remain for devotees for the first time

मकर संक्रांति के स्नान में पहली बार हरिद्वार पैड़ी जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए वनवे व्यवस्था लागू की गई। अपर रोड से यात्रियों को हरकी पैड़ी नहीं जाने दिया जाएगा। जबकि बड़ा बाजार से हरकी पैड़ी भेजा जाएगा और अपर रोड से वापसी कराई जाएगी। उधर भीमगोड़ा में भीड़ बढ़ने पर जसवंत घाट से कांगड़ा घाट वाले मार्ग से यात्रियों को हरकी पैड़ी आने दिया जाएगा। भीमगोड़ा काली मंदिर मार्ग से वापसी कराई जाएगी। स्नान को लेकर ऑटो विक्रम और ई रिक्शा को हाईवे पर प्रतिबंध किया गया है।

आज गुरुवार को मकर संक्रांति का स्नान होना है। इसके लिए ट्रैफिक प्लान के साथ ही शहर के अंदर के लिए भी प्लान पुलिस ने तैयार कर लिया है। पहली बार मकर संक्रांति स्नान के लिए इस तरह का प्लान बनाया गया है। जबकि इस स्नान में 10 से 15 लाख लोग ही स्नान को पहुंचते है। लेकिन मेला पुलिस ने बड़े स्नान की तरह ही इस बार प्लानिंग की है। क्योकि इस स्नान को शाही स्नान की तरह व्यवस्थाएं की जा रही है।

एसपी ट्रैफिक आयुष अग्रवाल ने बताया कि हरकी पैड़ी पर वनवे व्यवस्था की जाएगी। रेलवे स्टेशन और बस अड्डे से हरकी पैड़ी आने वाले यात्रियों को बड़ा बाजार से होते हुए हरकी पैड़ी लाया जाएगा। स्नान के बाद अपर रोड से वापसी की जाएगी। चमगादड़ टापू में वाहन पार्किंग कर हरकी पैड़ी आने वाले यात्रियों को भीड़ बढ़ने पर जसवंत घाट से कांगड़ा घाट होते हुए हरकी पैड़ी लाया जाएगा। वापसी के लिए काली मंदिर भीमगोड़ा मार्ग का इस्तेमाल किया जाएग।

हाईवे पर नहीं दौड़ेंगे
ऑटो, विक्रम और ई-रिक्शा को हाईवे पर नहीं चलने दिया जाएगा। हालांकि हाईवे पर क्रॉसिंग कर सकते है। इसके लिए मेला पुलिस ने ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों को निर्देशित कर दिया है।

स्थानीय को छूट
भीमगोड़ा से लेकर नगर कोतवाली तक पूरी तरह जीरो जोन रहेगा। वाहनों पर प्रतिबंध लगाया गया है। स्थानीय लोगों को वनवे प्लान में छूट मिलेगी। लोकल आइडी दिखाकर स्थानीय लोग अपने घर जा सकेंगे।

टिबड़ी से नहीं जा सकेंगे यात्री
टिबड़ी वाले मार्ग से हिल बाईपास मार्ग होते हुए वाल्मीकि चौक से हरकी पैड़ी जाने वाले यात्रियों को इस बार नहीं जाने दिया जाएगा। टिबड़ी पर बैरियर लगाया जाएगा। इसमें यात्रियों के अलावा लोकल व्यक्तियों को भी नहीं जाने दिया जाएगा। केवल उन लोगों को जाने दिया जाएगा जो पुराना औद्योगिक क्षेत्र में काम करते है या फिर इस इलाके में रहते है। इसके लिए उन्हें आइडी दिखानी होगी।

ऋषिकुल पर होगा पहला बैरियर
मध्य हरिद्वार के ऋषिकुल पर मेला पुलिस का पहला बैरियर लगाया जाएगा। यहां बसों को छोड़कर चौपहियां वाहनों को रोका जाएगा। दूसरे बैरियर शिवमूर्ति पर तिपहियां वाहनों को रोका जाएगा। वाल्मीकि चौक पर दुपहियां वाहनों को भी रोकने की योजना है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Makar Sankranti: Oneway will remain for devotees for the first time