DA Image
21 जनवरी, 2020|11:27|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तराखंड: प्रमोशन में देरी से एलटी शिक्षकों में नाराजगी

Cancellation of teachers Transfer Policy

एलटी से प्रवक्ता पद पर प्रमोशन में हो रही देरी से शिक्षकों में नाराजगी है। पिछले कई दिनों से शिक्षक अफसरों के चक्कर काट रहे हैं, लेकिन समाधान नहीं हो रहा। शुक्रवार को राजकीय शिक्षक संघ ने शिक्षा निदेशक आरके कुंवर को ज्ञापन देकर जल्द से जल्द प्रक्रिया शुरू कराने की मांग की। प्रवक्ता कैडर के 1959 रिक्त पदों पर एलटी शिक्षकों का प्रमोशन होना है। संघ के अध्यक्ष कमल किशोर डिमरी और महामंत्री डॉ. सोहन सिंह माजिला के नेतृत्व में शिक्षकों ने दोपहर कुंवर से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि प्रमोशन की प्रक्रिया में लगातार देरी हो रही है। कुंवर ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार लोकसेवा आयोग पहले सीधी भर्ती के पदों पर चयनित शिक्षकों की नियुक्तियां कर रहा है।

डिमरी और माजिला ने कहा कि प्रमोशन की प्रक्रिया पिछले कई महीने से चल रही है। यदि प्रयास किया जाता तो एलटी की डीपीसी काफी पहले भी हो सकती थी। कुंवर ने शिक्षकों को बताया कि सुप्रीम कोर्ट का आदेश 30 जून तक रिक्त पदों को भरने का है। प्रवक्ता पद पर प्रमोशन की डीपीसी भी आयोग के स्तर से होनी है। इसके चलते सीधी भर्ती से मुक्त होते ही आयोग डीपीसी की प्रक्रिया को शुरू कर सकेगा। निदेशालय लगातार आयोग  के संपर्क में है।  प्रतिनिधिमंडल  ज्योति सेमवाल, सीमा चौधरी, शिव सिंह रावत, शैलेंद्र मैठानी, अभय शर्मा, आनंद वाजपेई, लोकेश रावत, संजय भट्ट, विवेक, राजेश बग्वाड़ी आदि शामिल रहे।

 

सीनियरिटी की वजह से परेशान हैं शिक्षक : प्रमोशन को लेकर शिक्षकों की चिंता सीनियरिटी को लेकर है। इस संबंध में एक शिक्षक ने  बताया कि एलटी कैडर में शिक्षक  वर्षों से नौकरी कर रहे हैं। यदि सीधी भर्ती से चयनित प्रवक्ता पहले नियुक्ति पा जाते हैं तो प्रमोशन वाले सीनियरिटी में पिछड़ जाएंगे। 

 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:lt teachers unhappy over delay in promotion in uttarakhand