ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडगर्भवती पत्नी के इलाज के लिए फाइनेंस कंपनी के कर्मी लूट, हरिद्वार में पुलिस पर झोंका फायर; 2 गिरफ्तार-चार फरार

गर्भवती पत्नी के इलाज के लिए फाइनेंस कंपनी के कर्मी लूट, हरिद्वार में पुलिस पर झोंका फायर; 2 गिरफ्तार-चार फरार

एसएसपी प्रमेंद्र सिंह डोबाल के निर्देश पर पुलिस टीम घटना के खुलासे में जुट गई थी। सीसीटीवी कैमरे की फुटेज के आधार पर पुलिस टीम ने सोमवार शाम को ओशो आश्रम के पास आरोपियों की घेराबंदी की।

गर्भवती पत्नी के इलाज के लिए फाइनेंस कंपनी के कर्मी लूट, हरिद्वार में पुलिस पर झोंका फायर; 2 गिरफ्तार-चार फरार
Himanshu Kumar Lallहरिद्वार, हिन्दुस्तानWed, 21 Feb 2024 02:25 PM
ऐप पर पढ़ें

गर्भवती पत्नी के इलाज के लिए आरोपियों ने फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी से लूटपाट कर दी। पुलिस चेकिंग में आरोपियों ने पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया, जबकि चार लूटेरे मौके से फरार हो गए। पुलिस की कई टीमें अब आरोपियों का पकड़ने के लिए दबिश दे रही है। 

हरिद्वार के सिडकुल क्षेत्र के हजाराग्रंट में फाइनेंसकर्मी से लूट की वारदात का खुलासा करते हुए मास्टर माइंड समेत दो आरोपियों को सिडकुल पुलिस ने धर दबोचा। आरोपियों ने घेराबंदी होने पर पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया। गनीमत रही कि पुलिसकर्मी बाल बाल बच गया।

वारदात में शामिल चार आरोपी हत्थे नहीं चढ़ सके, जिनकी धरपकड़ के लिए पुलिस टीम जगह-जगह दबिश दे रही है। आरोपियों के कब्जे से पचास हजार की रकम, असलहा, कारतूस, घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल और दो मोबाइल फोन बरामद किए गए हैं।एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह ने मंगलवार को कार्यालय में जानकारी देते हुए बताया कि फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी राहुल कुमार से उस वक्त करीब डेढ़ लाख की नगदी लूट ली गई थी जब वह हजाराग्रंट से वसूली कर लौट रहा था।

एसएसपी प्रमेंद्र सिंह डोबाल के निर्देश पर पुलिस टीम घटना के खुलासे में जुट गई थी। सीसीटीवी कैमरे की फुटेज के आधार पर पुलिस टीम ने सोमवार शाम को ओशो आश्रम के पास पीर वाली गली में दो आरोपियों की घेराबंदी कर ली। घेराबंदी होने पर आरोपियों ने पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया। एसपी सिटी ने बताया कि पुलिस टीम ने आरोपियों को जैसे तैसे दबोच लिया।

आरोपियों के कब्जे से एक देसी तमंचा, एक जिंदा कारतूस, एक खोखा, पचास हजार की रकम, दो मोबाइल फोन, पीड़ित का बैग, फिंगर प्रिंट वाली मशीन, आईडी प्रूफ बरामद हुआ। एसपी सिटी ने बताया कि आरोपियों के नाम शिवकुमार पुत्र अमरनाथ निवासी ग्राम हुसैनपुर नवादा थाना फतेहपुर सहारनपुर यूपी और गुलाम साबिर पुत्र स्माइल निवासी ग्राम हजारा ग्रंट है।

अंकित, राजा, नकुल निवासीगण फतेहपुर सहारनपुर और नूनपुर मुजफ्फरनगर एवं आबिद निवासी हजाराग्रंट फरार चल रहे हैं, जिन्हें भी जल्द पकड़ लिया जाएगा। आरोपियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का भी मुकदमा दर्ज किया गया है।

पीड़ित की गाड़ी की चाबी निकाल ली थी आरोपियों ने
आरोपियों ने घटना को अंजाम देने के बाद पीड़ित की मोटरसाइकिल की चाबी निकाल ली थी। घटना को अंजाम देकर भागते हुए काफी आगे पहुंचकर चाभी फेंक दी थी, जिससे की पीड़ित उनका पीछा न कर सके।

गर्भवती पत्नी का इलाज कराने के लिए की लूट
पुलिस के अनुसार वारदात का मास्टर माइंड शिवकुमार है। आरोपी की पत्नी गर्भवती है, उसे पत्नी के इलाज के लिए रकम की जरूरत थी। उसने अपनी जरूरत की बात साथी गुलाम साबिर से साझा की। उसके बाद गुलाब साबिर और आबिद ने एक फाइनेंस कर्मचारी के हर माह गांव में वसूली करने के लिए पहुंचने की जानकारी दी।

तयशुदा योजना के तहत शिवकुमार ने अपने साथी अंकित, राजा और नकुल के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। आरोपी गुलाब साबिर मास्टर माइंड शिवकुमार के परिचित फाइनेंस कंपनी स्वामी के यहां कार्यरत है। वहीं दोनों की मुलाकात हुई थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें