ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडचारधाम के लिए भक्तों की लंबी कतार, दर्शन के लिए एक महीने से ज्यादा करना होगा इंतजार

चारधाम के लिए भक्तों की लंबी कतार, दर्शन के लिए एक महीने से ज्यादा करना होगा इंतजार

गंगोत्री-यमुनोत्री में जाम के अलावा यात्रियों को यात्रा कारोबारियों ने भी जख्म देने का काम किया है। खाने पीने की वस्तुओं और होटल के कमरों का मनमाना पैसा वसूला जा रहा है। रजिस्ट्रेशन फुल हो गए।

चारधाम के लिए भक्तों की लंबी कतार, दर्शन के लिए एक महीने से ज्यादा करना होगा इंतजार
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तान टीमWed, 15 May 2024 12:57 PM
ऐप पर पढ़ें

गंगोत्री, केदारनाथ समेत चारधाम आने वाले तीर्थ यात्रियों को करीब एक महीने लंबा इतंजार करना पड़ा सका है। ऑफलाइन और ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन पूरी तरह से फुल हो गए हैं। ऐसे में एमपी, यूपी, राजस्थान, गुजरात,दिल्ली आदि राज्यों को दर्शन के लिए इंतजार करना पड़ेगा।

वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन पंजीकरण कराने वालों को भी 22 जून तक की कोई तारीख नहीं मिलेगी। 22 जून तक के लिए सभी धामों में तय संख्या में  रजिस्ट्रेशन फुल हो चुके हैं। अब जो भी रजिस्ट्रेशन होने हैं, वे 22 जून के बाद ही जाकर होंगे।

यात्री बोले, दोगुने दाम पर मिल रहा सामान 
गंगोत्री-यमुनोत्री में जाम के अलावा यात्रियों को यात्रा कारोबारियों ने भी जख्म देने का काम किया है। खाने पीने की वस्तुओं और होटल के कमरों का मनमाना पैसा वसूला जा रहा है। ऐसे आरोप जाम में फंसे यात्रियों ने दुकानदारों और होटल संचालकों पर लगाए हैं।

महाराष्ट्र के विराज इंदुलकर, सुभाष भाई, गुजरात के सुरेश पटेल, भावेश आदि यात्रियों को मंगलवार सुबह उत्तरकाशी सब्जी मंडी में रोका गया था। उन्होंने आरोप लगाया कि जहां-जहां वे रूके हैं, खाने-पीने का सामान मनमाने दाम पर उन्हें बेचा गया।

देवभूमि में आकर लोगों से ऐसी अपेक्षा नहीं की जाती है। खाद्य सामग्री महंगे दामों पर मिल रही है। होटल में कमरों का किराया मनमाने ढंग से वसूला जा रहा है। जबकि होटलों में कमरे उस लिहाज से सुविधाजनक भी नहीं है।

गंगोत्री जाने की जिद पर अड़े श्रद्धालुओं ने लचर व्यवस्थाओं पर उठाए सवाल
गंगोत्री धाम की यात्रा पर अधिक श्रद्धालुओं के आने से मंगलवार को सुबह से जिला मुख्यालय उत्तरकाशी में करीब एक किलोमीटिर दायरे में जाम की स्थिति बनी रही। इस दौरान सब्जी मंडी के पास रोके गए यात्री पुलिस कर्मियों से आगे जाने की जिद करते दिखे और रोकने पर उन्होंने जमकर हंगामा काटा।

लोकल वाहनों को पास कराने पर यात्री भड़क उठे और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। यात्रियों प्रशासन की लचर यात्रा व्यवस्था पर भी सवाल उठाए। यात्रियों ने कहा कि सुविधा के नाम पर यात्रियों के लिए पड़ावों पर कुछ नहीं है। उत्तरकाशी में यात्री रोके जाने पर सब्जी मंडी से लेकर तांबाखाणी सुरंग के आखिरी छोर तक वाहनों की लंबी कतार दिखी।

श्रद्धालुओं की सुविधा को देखते हुए ही ऑफलाइन पंजीकरण का भी विकल्प दिया गया है। ऑनलाइन पंजीकरण में भी जो दिक्कतें होंगी, उन्हें दूर कराया जाएगा। ऑनलाइन पंजीकरण में फर्जीवाड़ा न हो और लोग गलत इस्तेमाल न करें, इसीलिए आधार नंबर के साथ ही आईडी भी अपलोड कराई जा रही है।
सतपाल महाराज, पर्यटन मंत्री