Less than average monsoon in Uttarakhand now only 12 days left know these data - उत्तराखंड में औसत से कम बरसा मानसून अब सिर्फ 12 दिन, जानें कहां कितनी हुई बारिश DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तराखंड में औसत से कम बरसा मानसून अब सिर्फ 12 दिन, जानें कहां कितनी हुई बारिश

                                                                                                                                 ht

उत्तराखंड में सालाना औसत से कम बरसा मानसून अब महज 12 दिन का मेहमान है। कुमाऊं के लिहाज से देखें तो बागेश्वर के अलावा किसी भी जिले में बारिश का औसत पूरा नहीं हो सकता है। पंतनगर विवि के मौसम वैज्ञानिक डॉ. आरके सिंह ने जलवायु परिवर्तन को इसका कारण बताया है। अगले तीन दिन ओलावृष्टि के साथ बारिश की संभावना जताई गई है। 

मौसम वैज्ञानिक डॉ. आरके सिंह ने बताया कि कुमाऊं में मानसून 15 सितंबर से लौटने लगता है। यह मानसून की विदाई का दौर है। 30 सितंबर तक मानसून पूरी तरह लौट जाएगा। इस साल पूरे कुमाऊं में बागेश्वर के अलावा अन्य पांच जिलों में औसत से कम बारिश हुई है। अगले 12 दिनों में मानसून की रफ्तार तेज हो सकती है। इससे कहीं तेज रफ्तार बारिश तो कहीं ओलावृष्टि हो सकती है। बुधवार को शहर का अधिकतम पारा 31.5 डिग्री और न्यूनतम तापमान 22.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

19, 20, 21 को भारी बारिश के आसार 

देहरादून मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि 19 से 21 तारीख तक उत्तराखंड में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है। नैनीताल, पिथौरागढ़, चमोली, पौड़ी, रुद्रप्रयाग में बारिश के साथ ओलावृष्टि की संभावना है।  

कुमाऊं भर में अब तक 1 जून से 18 सितंबर तक बारिश (मिमी में)

जिला औसत बारिश बारिश 

अल्मोड़ा 791.6 608.0

चम्पावत 1260.3 956.2

बागेश्वर 791.6 1158.7

पिथौरागढ़ 1477.7 1293.5

नैनीताल 1353.7 1158.7

यूएसनगर 1019.2 938.1

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Less than average monsoon in Uttarakhand now only 12 days left know these data