ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडकुमाऊं विश्वविद्यालय की वेबसाइट हैक क्या थे इरादे? फलस्तीनी लोगों के समर्थन में लिखा मैसेज

कुमाऊं विश्वविद्यालय की वेबसाइट हैक क्या थे इरादे? फलस्तीनी लोगों के समर्थन में लिखा मैसेज

हालांकि इस दौरान वेबसाइट में आवेदन करने वाले छात्र-छात्राओं में असमंजस की स्थिति बनी रही। जानकारी के अनुसार सोमवार रात करीब नौ बजे हैकर्स ने कुमाऊं विवि की वेबसाइट www.kunainital.ac.in हैक कर दी।

कुमाऊं विश्वविद्यालय की वेबसाइट हैक क्या थे इरादे? फलस्तीनी लोगों के समर्थन में लिखा मैसेज
Himanshu Kumar Lallनैनीताल, हिन्दुस्तानWed, 15 Nov 2023 05:21 PM
ऐप पर पढ़ें

हैकर्स ने सोमवार की रात कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल की वेबसाइट हैक कर ली। हैकर ने वेबसाइट के मुख्य पृष्ठ पर फलस्तीनी लोगों के समर्थन में मैसेज लिख दिया। इसके बाद मुख्य पृष्ठ खुलना भी बंद हो गया। जब इसकी सूचना विवि प्रशासन को मिली को तो आननफानन में ईआरपी सेल ने मंगलवार सुबह वेबसाइट को ठीक किया।

हालांकि इस दौरान वेबसाइट में आवेदन करने वाले छात्र-छात्राओं में असमंजस की स्थिति बनी रही। जानकारी के अनुसार सोमवार रात करीब नौ बजे हैकर्स ने कुमाऊं विवि की वेबसाइट www.kunainital.ac.in हैक कर दी।

ईपीआर सेल के मुताबिक हैकर्स के वेबसाइट हैक करने के बाद मुख्य पृष्ठ के नीचे जब तक फलस्तीनी लोगों को आजादी नहीं मिल जाती तब तक इंडोनेशिया के लोग खड़े होकर इजरायल उपनिवेशविदयों को चुनौती देंगे लिखा दिखाई देने लगा।

ऐसा माना जा रहा है कि वेबसाइट को फलस्तीनी ने हैक किया है या फिर किसी ने शरारत की है। हालांकि वेबसाइट हैक होने के तुरंत बाद ही छात्रों को इसके संबंध में जानकारी मिल गई। उन्होंने विवि प्रशासन को दी।विवि प्रशासन ने ईआरपी सेल को सूचना देने के बाद वेबसाइट को ठीक कराया।

फिलहाल विवि की साइट सुरक्षित है। विवि के मुख्य परीक्षा नियंत्रक डॉ. महेंद्र राणा ने बताया, छात्रों की ओर से इस संबंध में सूचना मिली थी। जिसके बाद विवि के आईटी विभाग की ओर से मामले में तत्काल कार्रवाई करते हुए वेबसाइट को अपडेट किया गया। कहा, छात्रों का डेटा सुरक्षित है, और साइट को दुरुस्त कर दिया गया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें