DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  ITBP की मॉकड्रिल में रिहायशी इलाके के अंदर घर की छत पर मोर्टार फटने से दहशत, पैराशूट से पहुंचा था विस्फोटक
उत्तराखंड

ITBP की मॉकड्रिल में रिहायशी इलाके के अंदर घर की छत पर मोर्टार फटने से दहशत, पैराशूट से पहुंचा था विस्फोटक

हिन्दुस्तान टीम, पिथौरागढ़ Published By: Himanshu Kumar Lall
Sat, 12 Jun 2021 10:42 PM
आईटीबीपी की मॉकड्रिल के दौरान रिहायशी इलाके में एक मकान की छत पर मोर्टार ।
1 / 2आईटीबीपी की मॉकड्रिल के दौरान रिहायशी इलाके में एक मकान की छत पर मोर्टार ।
आईटीबीपी की मॉकड्रिल के दौरान रिहायशी इलाके पहुंचा मोर्टार  व पैराशूट।
2 / 2आईटीबीपी की मॉकड्रिल के दौरान रिहायशी इलाके पहुंचा मोर्टार व पैराशूट।

पिथौरागढ़ में आईटीबीपी की मॉकड्रिल के दौरान एक मोर्टार पैराशूट के साथ रियाहशी इलाके में जा पहुंचा। उनके घर की छत पर गिरते ही जोरदार धमाका हुआ, जिससे वहां अफरा-तफरी मच गई। धमाके की आवाज सुनकर लोग घटनास्थल पर पहुंचे तो मामले का पता चला। लोगों की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मोर्टार व पैराशूट को कब्जे में लिया। गनीमत रही कि कोई बड़ी घटना नहीं हुई। शनिवार दोपहर नगर के नजदीक बस्ते में एक छत के ऊपर बड़े धमाका हुआ, जिससे छत में दरारें पड़ गईं। आसपास के लोग आवाज सुनकर घटनास्थल की तरफ दौड़े तो वहां से धुंए का गुबार उठ रहा था।

धुआं छटने पर नजदीक जाकर देखा तो वहां एक मोर्टार होने की जानकारी मिली। मोर्टार देख लोग दहशत में रहे। उन्होंने घटना की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने मोर्टार  व वहां पड़े पैराशूट को कब्जे में लेकर मामले की छानबीन की। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बस्ते के नजदीक जाजरदेवल आईटीबीपी कैंप में मॉकड्रिल चल रही थी। इसी दौरान पैराशूट के साथ बंधा मोर्टार हवा के रुख के साथ बस्ते पहुंच गया। जिस घर की छत में गिर वहां जोरदार धमाका हुआ।

बाल-बाल बची महिला
पिथौरागढ़। बस्ते के संतोष शर्मा ने बताया कि जिस घर की छत में मोर्टार से धमाका हुआ, उसके बगल वाले घर की छत में एक महिला टहल रही थी। मोर्टार से हुए धमाके के बाद उससे निकली चिंगारी से महिला के वस्त्र जल गए। कहा गनीमत रही कि महिला की जान बच गई।

लोगों में आईटीबीपी के खिलाफ आक्रोश
पिथौरागढ़। इस घटना के बाद बस्ते के लोगों में आईटीबीपी के खिलाफ आक्रोश है। वार्ड सदस्य दिनेश कापड़ी ने कहा यह आईटीबीपी की बड़ी लापरवाही है। आईटीबीपी इस तरह की मॉकड्रिल हमेशा करती है जो जरूरी है। लेकिन उसे आसपास के लोगों की सुरक्षा का ध्यान भी रखना चाहिए। कहा इस तरह की लापरवाही से कभी भी बढ़ी दुर्घटना हो सकती है। इसके लिए आईटीबीपी को सजगता दिखानी चाहिए।

लोगों की सूचना के बाद मौके पर पहुंचकर मोर्टार व पैराशूट को कब्जे में लिया। आईटीबीपी की मॉकड्रिल के दौरान मोर्टार पैराशूट के साथ बस्ते पहुंचा।
केसी आर्या, थानाध्यक्ष, जाजरदेवल।

मॉकड्रिल के दौरान पैराशूट बस्ते पहुंच गया। इसमें खतरे वाली कोई बात नहीं थी। आईटीबीपी लोगों की सुरक्षा के प्रति तत्परता से काम कर रही है।
नरेंद्र कुमार, कमांडेंट, आईटीबीपी, जाजरदेवल।

 

संबंधित खबरें