DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  हरिद्वार संसदीय क्षेत्र में हार के बाद बसपा में सियासी तूफान

उत्तराखंडहरिद्वार संसदीय क्षेत्र में हार के बाद बसपा में सियासी तूफान

लाइव हिन्दुस्तान टीम, देहरादूनPublished By: Himanshu
Mon, 03 Jun 2019 05:31 PM
हरिद्वार संसदीय क्षेत्र में हार के बाद बसपा में सियासी तूफान

लोकसभा चुनावों में हार के बाद बहुजन समाज पार्टी में सियासी तूफान मच गया है। हरिद्वार सीट से बसपा प्रत्याशी डॉ. अंतरिक्ष सैनी ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष समेत कई शीर्ष पदाधिकारियों पर भाजपा के लिए काम करने का आरोप लगाया। उन्होंने बसपा सुप्रीमो मायावती को बाकायदा पत्र लिखकर इस मामले की शिकायत की है।  हरिद्वार सीट पर बसपा ने डॉ. अंतरिक्ष सैनी को प्रत्याशी बनाया था। सपा के साथ गठबंधन की वजह से पार्टी इस सीट को मजबूत मानते हुए जीत के दावे कर रही थी। लेकिन, चुनाव परिणाम पार्टी के लिहाज से माकूल नहीं रहे। पार्टी प्रत्याशी को कुल एक लाख 73 हजार मतों के साथ तीसरे स्थान पर संतोष करना पड़ा। बसपा सूत्रों ने बताया कि समाजवादी पार्टी से गठबंधन के बाद पार्टी की इस सीट पर स्थिति काफी मजबूत थी। मगर, कमजोर संगठन और शीर्ष पदाधिकारियों की मिली भगत से पार्टी को हार का सामना करना पड़ा। पार्टी प्रत्याशी की ओर से मायावती को लिखी चिट्ठी में साफ तौर पर कहा गया है कि प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप बालियान के साथ ही कई शीर्ष पदाधिकारियों ने भाजपा के लिए काम किया। चुनाव से तीन दिन पहले भाजपा नेताओं के साथ हुई मुलाकात का जिक्र करते हुए कहा कि इससे कार्यकर्ताओं में गलत संदेश गया। पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल पदाधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की गई। मायावती से मुलाकात का भी समय मांगा गया है। एमएल तोमर पार्टी के नए प्रभारी: बसपा सुप्रीमो ने राज्य प्रभारी को हटा दिया है। अब एमएल तोमर को राज्य का नया प्रभारी बनाया गया है। बसपा प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप बालियान ने इसकी जानकारी दी।

हरिद्वार में हार से बसपा कार्यकर्ता मायूस हैं। इस हार की सबसे बड़ी वजह शीर्ष पदाधिकारियों का काम न करना और पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल रहना है। पार्टी प्रमुख को इसकी जानकारी दे दी गई है। 
डॉ. अंतरिक्ष सैनी, हरिद्वार सीट से बसपा प्रत्याशी

बसपा संगठन ने हरिद्वार सीट पर पूरी मजबूती के साथ काम किया। मैंने या किसी भी अन्य पदाधिकारी ने पार्टी विरोधी कोई काम नहीं किए। सभी आरोप निराधार हैं। हम चुनाव ईवीएम की वजह से हारे हैं। 
कुलदीप बालियान, प्रदेश अध्यक्ष बसपा
 

संबंधित खबरें