ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडमैं जिंदा हूं, मुझे मतदान करने दो... 61 साल की महिला भी नहीं दे पाई वोट

मैं जिंदा हूं, मुझे मतदान करने दो... 61 साल की महिला भी नहीं दे पाई वोट

इसमें उनका नाम भी दर्ज था। सुमित्रा देवी काफी देर तक मतदान कर्मचारियों से गुहार लगाती रहीं, लेकिन उन्हें वोट नहीं डालने दिया गया। बीएलओ ने सुमित्रा देवी का मोबाइल नंबर भी लिया था।

मैं जिंदा हूं, मुझे मतदान करने दो... 61 साल की महिला भी नहीं दे पाई वोट
Himanshu Kumar Lallहरिद्वार, अरुण मिश्राSat, 20 Apr 2024 11:30 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड लोकसभा चुनाव 2024 में ऐसे कई मतदाता जो वोट नहीं दे पाए। मतदाता सूची में नहीं होने की वजह से वोटर वोट नहीं दे पाए। ऐसे ही एक हैरान करने वाला मामला हरिद्वार में सामने आया है। हरिद्वार के मायापुर के भल्ला कॉलेज में 61 वर्षीय सुमित्रा देवी वोट देने पहुंचीं, लेकिन वहां पता चला कि मतदाता सूची में उन्हें मृतक बताया गया है।

सुमित्रा देवी मतदान कर्मियों से कहती रहीं कि मैं जिंदा हूं, मुझे वोट डालने दो। लेकिन, उनकी यह मुराद पूरी नहीं हो पाई। पीडब्लयूडी कालोनी में रहने वाली सुमित्रा देवी ने बताया कि मतदाता कर्मी के पास हाथों से लिखी मृतक मतदाताओं की सूची थी।

इसमें उनका नाम भी दर्ज था। सुमित्रा देवी काफी देर तक मतदान कर्मचारियों से गुहार लगाती रहीं, लेकिन उन्हें वोट नहीं डालने दिया गया। बीएलओ ने सुमित्रा देवी का मोबाइल नंबर भी लिया और मतदान करवाने के प्रयास का आश्वासन देकर घर भेज दिया। इसके बाद सुमित्रा देवी बिना वोट डाले मतदान केंद्र से निराश लौट गईं।

दूसरी ओर, भल्ला कालेज में पहुंची ममता का वोट पहले ही पड़ चुका था। ममता के पति दीपक सभी अधिकारियों से मामले की शिकायत की, लेकिन अंत में उन्हें निराश वापस लौट गया।