DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रुड़की: हरियाणा के डॉक्टर को नशीली चाय पिलाकर गंगनहर में फेंका

Ganga river in Uttarakhand

सोनीपत हरियाणा के पशु चिकित्सक को आरोपियों ने गंगनहर में फेंक दिया। रविवार को सोनीपत की पुलिस ने हरिद्वार से लेकर मुजफ्फरनगर तक झाल खंगाली, लेकिन डॉक्टर का कहीं कुछ पता नहीं चला। आरोप है कि पैसों को लेकर डॉक्टर को गंगनहर में फेंका गया है।

जिला सोनीपत बड़ौली निवासी राकेश पुत्र रामफल निजी पशु चिकित्सक थे। पुलिस के अनुसार गत छह जनवरी को वह साथी संग चंडीगढ़ घूमने निकले थे। लेकिन दो दिन तक भी वह घर नहीं लौटे। पीड़ित परिजनों ने उनकी गुमशुदगी दर्ज कराई। जांच के लिए हरियाणा पुलिस ने साथियों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। जांच में पता चला की मुख्य आरोपी जिला सोनीपत बड़ौली निवासी रविंद्र पुत्र अंग्रेज लोगों से सरकारी नौकरी लगाने को लेकर ठगी करता है। दिल्ली, पंजाब, सोनीपत, हरियाणा पुलिस में नौकरी दिलाने का झांसा देकर आरोपी ने करीब एक करोड़ रुपये ठगे। राकेश से भी पैसे लिए गए थे। वह पैसे वापस मांग रहा था। आरोपी झांसा देकर उसे चंडीगढ़ घूमने के नाम पर हरिद्वार ले लाए। जहां डॉक्टर को चाय में नशीला पदार्थ पिला दिया और बेहोश होने पर उसे गंगनहर में फेंक दिया। बाद में आरोपी वापस सोनीपत आ गए।

एसएसआई गंगनहर रणजीत सिंह तोमर ने बताया कि थाना राई जिला सोनीपत से हेड कांस्टेबल जगदीश चंद और सुनील कुमार हरिद्वार के वीआईपी घाट के पास रस्से वाला पुल के पास से गंगनहर में फेंके गए सोनीपत निवासी राकेश की तलाश को लेकर क्षेत्र में आए थे। सोनीपत पुलिस ने हरिद्वार से लेकर मोहम्मदपुर झाल तक गंगनहर खंगाली। उन्होंने बताया कि तलाशी अभियान में पुलिस को डॉक्टर नहीं मिले। तलाशी अभियान के बाद पुलिस वापस लौट गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Haryana doctor was thrown into Ganga by drinking intoxicant tea in Uttarakhand