ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडहल्द्वानी हिंसा में मारे गए 5 लोग कौन, 16 का अनस और 24 साल के प्रकाश की भी मौत

हल्द्वानी हिंसा में मारे गए 5 लोग कौन, 16 का अनस और 24 साल के प्रकाश की भी मौत

हल्द्वानी में गुरुवार को अवैध मदरसे और मस्जिद जैसे ढांचे पर बुलडोजर ऐक्शन के बाद हुई भारी हिंसा में कम से कम पांच लोगों की मौत हुई है तो 300 से अधिक घायल हो गए। छठे शख्स की मौत की भी सूचना है।

हल्द्वानी हिंसा में मारे गए 5 लोग कौन, 16 का अनस और 24 साल के प्रकाश की भी मौत
Sudhir Jhaहिन्दुस्तान,हल्द्वानीFri, 09 Feb 2024 04:56 PM
ऐप पर पढ़ें

हल्द्वानी में गुरुवार को अवैध मदरसे और मस्जिद जैसे ढांचे पर बुलडोजर ऐक्शन के बाद हुई भारी हिंसा में कम से कम पांच लोगों की मौत हुई है तो 300 से अधिक घायल हो गए। छठे शख्स की मौत की भी सूचना है, लेकिन अभी इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। मरने वालों में बाप-बेटा भी शामिल है। बेटे की उम्र महज 16 साल थी। सभी मृतकों का पोस्टमॉर्टम किया गया है।

बनभूलपुरा में गुरुवार को नगर निगम की टीम की ओर से किए गए ऐक्शन के बाद अचानक बड़ी संख्या में लोगों ने पुलिस-प्रशासन और निगम की टम पर हमला कर दिया। गलियों से बड़ी संख्या में लोग निकले और पथराव शुरू कर दिया। शाम ढलने के बाद जमकर आगजनी की गई, पेट्रोल बम भी फेंके गए। अवैध हथियारों से फायरिंग भी की गई। शुक्रवार सुबह नैनीताल की डीएम वंदना सिंह ने 2 मौतों की पुष्टि की। हालांकि, अब 5 मौतों की सूचना दी गई है। प्रशासन ने 5 मौतों की पुष्टि कर दी है।

हल्द्वानी के एसटीएच अस्पताल में 5 शवों का पॉस्टमॉर्टम किया गया है। जो लोग मारे गए हैं उनकी पहचान फईम (30) निवासी लाइन नम्बर 16 गांधीनगर, जाहिद उर्फ जॉनी (45) निवासी गफूर बस्ती, अनस (16) पुत्र जाहिद उर्फ जॉनी, सीवान (22) निवासी लाइन नम्बर 9 और प्रकाश (24) निवासी बाजपुर के रूप में हुई है। अभी यह साफ नहीं है कि इन लोगों की मौत कैसे हुई। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

इस बीच हल्द्वानी पहुंचे उत्तराखंड के डीजीपी अभिनव कुमार ने कहा है कि आरोपियों की पहचान की जा रही है और सख्त ऐक्शन लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ एनएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी। डीजीपी ने हिंसा के पीछे साजिश की आशंका भी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि जिस तेजी से इतनी बड़ी संख्या में लोग इकट्ठे हुए और पुलिस-प्रशासन पर हमला किया उसके पीछे साजिश प्रतीत होती है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें