ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडहिंसा की आग में जलने वाले हल्द्वानी का अब कैसा हाल, आसमान से कुछ ऐसा दिख रहा शहर: ड्रोन वीडियो

हिंसा की आग में जलने वाले हल्द्वानी का अब कैसा हाल, आसमान से कुछ ऐसा दिख रहा शहर: ड्रोन वीडियो

Haldwani news: तीन दिन बाद हल्द्वानी शहर खामोशी की चादर ओढ़े दिखा। ड्रोन वीडियो में पूरा बनभूलपुरा इलाका दिख रहा है। सड़क पर कोई नहीं दिख रहा, कुछ गाड़ियां किनारे खड़ी हैं।

हिंसा की आग में जलने वाले हल्द्वानी का अब कैसा हाल, आसमान से कुछ ऐसा दिख रहा शहर: ड्रोन वीडियो
Devesh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,हल्द्वानीSun, 11 Feb 2024 08:28 PM
ऐप पर पढ़ें

हल्द्वानी हिंसा के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में पुलिस ने अबतक 50 से अधिक लोगों को पकड़ा है। शहर में लागू कर्फ्यू में ढील दी गई है लेकिन पुलिसबल ऐक्शन मोड में है। दरअसल, गुरुवार को बनभूलपुरा में एक अवैध मदरसे को तोड़ने गई पुलिस और नगर निगम की टीम पर उपद्रवियों ने अटैक कर दिया था। पत्थरबाजी के बाद पेट्रोल बम से हमला होने लगा। एक थाने और दर्जनों गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया। देखते ही देखते पूरे इलाके से धुआं उठने लगा। कई तस्वीरें और वीडियो सामने आए जिसमें हिंसा का खौफनाक मंजर दिखा। ऐसे में इस हादसे के तीन दिन बाद एक नया वीडियो सामने आया है। ड्रोन वीडियो में उस इलाके का सूरत-ए-हाल दिखाया गया है, जहां हिंसा भड़की थी।

खामोशी की चादर ओढ़े दिखा हल्द्वानी
तीन दिन बाद हल्द्वानी शहर खामोशी की चादर ओढ़े दिखा। ड्रोन वीडियो में पूरा बनभूलपुरा इलाका दिख रहा है। सड़क पर कोई नहीं दिख रहा, कुछ गाड़ियां किनारे खड़ी हैं। शहर से कोई आवाज भी नहीं आ रही है। 

दरअसल, इस हिंसा में अबतक छह लोगों की मौत हो गई है। उपद्रवियों ने थाने पर पेट्रोल बम फेंकना शुरू कर दिया था, जिसके बाद उन्हें देखते ही गोली मार देने का आदेश जारी कर दिया गया। चप्पे-चप्पे पर पुलिसबल तैनात कर दी गई। पुलिस ने जल्द ही स्थिति को कंट्रोल कर लिया। शहर में 'लॉकडाउन' जैसा माहौल दिख रहा है। इस घटना के बाद पूरा उत्तराखंड हाई अलर्ट पर है। 

इंटेलिजेंस ने एक हफ्ते पहले दी थी इनपुट
जानकारी के मुताबिक, इंटेलिजेंस ने इस हिंसा के एक हफ्ते पहले ही स्थानीय प्रशासन को रिपोर्ट सौंपा दिया। इंटेलिजेंस ने अपने इनपुट में प्रशासन को चेताया था। रिपोर्ट में बताया गया था कि बुलडोजर ऐक्शन के बाद इलाके में हिंसा भड़क सकती है। साथ ही मुस्लिम संगठन और कट्टरपंथी लोग विरोध प्रदर्शन कर सकते हैं, जिसमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हो सकते हैं। यहां क्लिक कर पढ़िए इंटेलिजेंस की पूरी रिपोर्ट...

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें