ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडGlobal Investors Summit 2023: सीएम धामी ने निवेशकों का किया स्वागत, 27 नई नीतियां तैयार; रोजगार पर फोकस

Global Investors Summit 2023: सीएम धामी ने निवेशकों का किया स्वागत, 27 नई नीतियां तैयार; रोजगार पर फोकस

पुष्कर सिंह धामी ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के लिए देहरादून आए निवेशकों का स्वागत किया। अभी तक तीन लाख करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव आ चुके हैं। निवेशकों के सुझाव पर 27 नई नीतियां तैयार की गई हैं।

Global Investors Summit 2023: सीएम धामी ने निवेशकों का किया स्वागत, 27 नई नीतियां तैयार; रोजगार पर फोकस
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,देहरादूनFri, 08 Dec 2023 07:05 AM
ऐप पर पढ़ें

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि इन्वेस्टर्स समिट के तहत अभी तक तीन लाख करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव आ चुके हैं। इसमें से 44 हजार करोड़ रुपये का निवेश धरातल पर भी उतर चुका है। मुख्यमंत्री ने गुरुवार को ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के आयोजनस्थल एफआरआई पहुंचकर जायजा लिया। उन्होंने अधिकारियों को सभी तैयारियां पूरी करने के निर्देश दिए। इस मौके पर उन्होंने कहा कि देवभूमि उत्तराखंड में कार्य करने के लिए निवेशकों द्वारा जो रुचि दिखाई गई है, उससे राज्य की प्रगति में नई ऊर्जा का संचार हो रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड में शिक्षा और चिकित्सा के क्षेत्र में कार्य की बहुत संभावनाएं हैं। इन क्षेत्रों पर विशेष फोकस किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य में ऐसे करारों को सबसे आगे रखा जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन्वेस्टर्स समिट में देश और विदेश के बड़े उद्योगपति भाग ले रहे हैं। हेल्थ, वेलनेस,शिक्षा,चिकित्सा,पर्यटन,फार्मा, ऑटोमोबाइल व प्रदेश की जरूरत के अनुसार सेक्टरों पर फोकस किया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य में निवेश बढ़ाने के लिए नीतियों को सरल बनाया गया है। निवेशकों के सुझावों के आधार पर 27 नई नीतियां तैयार की गई हैं।

इस मौके पर मुख्य सचिव डॉ.एसएस संधु, अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, सचिव डॉ. आर.मीनाक्षी सुंदरम,शैलेश बगोली, डॉ. बीवीआरसी पुरुषोत्तम, विनय शंकर पांडेय, डीएम सोनिका, महानिदेशक उद्योग रोहित मीणा, महानिदेशक सूचना बंशीधर तिवारी आदि मौजूद रहे।

स्थानीय लोगों को रोजगार पर है सरकार का फोकस धामी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने एफआरआई में कहा कि इन्वेस्टर्स समिट के तहत प्रदेश सरकार का फोकस ऐसे उद्योगों पर है जिनसे स्थानीय स्तर पर रोजगार पैदा हों। उन्होंने कहा,समिट के तहत जो करार हुए, उन्हें धरातल पर उतारने का कार्य तेजी से चल रहा है। अधिकारियों को भी इसकी नियमित समीक्षा करने के निर्देश दिए गए हैं। सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मार्गदर्शन राज्य को निरंतर मिल रहा है। इस दशक को उत्तराखंड का दशक बनाने के लिए उनके मार्गदर्शन में राज्य सरकार हर क्षेत्र में तेजी से कार्य कर रही है।

देहरादून पहुंचे निवेशकों का मुख्यमंत्री ने किया स्वागत

समिट के लिए निमंत्रित अधिकांश निवेशक और प्रतिनिधि गुरुवार को दून पहुंच गए। सीएम आवास में गुरुवार शाम निवेशकों ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात की। इस दौरान उनका स्वागत करते हुए सीएम ने कहा कि इन्वेस्टर्स समिट की थीम ‘पीस टू प्रोस्पेरिटी’ रखी गई है। समिट की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। उत्तराखंड को निवेश की न्यू डेस्टिनेशन के रूप में स्थापित करने के उद्देश्य से यह आयोजन किया जा रहा है। उत्तराखंड में निवेश के लिए बेहतरीन वातावरण है। सरकार निवेशकों की हरसंभव सहायता करेगी।

निवेश के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए जुटे रहे मुख्यमंत्री

धामी सरकार बीते दो माह से ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियों में जुटी हुई है। इसके तहत मुख्यमंत्री ने विदेशों में चार रोड शो जबकि देश के बड़े शहरों में पांच रोड शो किए। सीएम ने भारत से बाहर लंदन, बर्मिंघम, अबुधाबी, दुबई जबकि देश में दिल्ली, चेन्नई, बंगलुरु, अहमदाबाद और मुंबई में रोड शो किए। लंदन में 12500 करोड़, यूएई में 12500 करोड़, दिल्ली में 26575 करोड़, चेन्नई में 10150 करोड़, बेंगलुरु में 4600 करोड़, अहमदाबाद में 24000 करोड़ और मुंबई में 30200 करोड़ रुपये के एमओयू किए गए।

वनकार्बन फाइनेंसिंग में 1000 करोड़ का करार

वन विभाग ने कार्बन फाइनेंसिंग के क्षेत्र में सिनर्जी प्राइवेट लिमिटेड-गुरुग्राम के साथ एक हजार करोड़ रुपये के निवेश का करार दिया। प्रमुख सचिव वन आरके सुधांशु ने बताया कि यह निवेश सीएम के इकोलॉजी-इकोनॉमी के दूरगामी विजन को साकार करेगा। राज्य में सघन पौधरोपण होगा । इससे प्राप्त होने वाले कार्बन क्रेडिट को अन्तर्देशीय व अन्तर्राष्ट्रीय कार्बन बाजार में विक्रय किया जाएगा।

10 हजार 500 करोड़ के निवेश को करार

आवास व शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने विधानसभा स्थित सभागार में आवास विभाग से संबंधित निवेशकों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा, कुछ निवेशकों के साथ एमओयू हो गए हैं जबकि कुछ के साथ शुक्रवार को होंगे। उन्होंने बताया-10,500 करोड़ के एमओयू होने से बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर पैदा होंगे। जो निवेश प्रस्ताव आए हैं उनकी ग्राउंडिंग का काम भी शुरू कर दिया गया है।

500 करोड़ रुपये से बनेंगे पांच निजी स्कूल

डीजी-शिक्षा बंशीधर तिवारी ने गुजरात के प्रतिष्ठान ग्रीन मेंटोरिंग एंड सॉल्यूशन के साथ 500 करोड़ रुपये के निवेश का एमओयू किया। इसके तहत टिहरी, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली व पौड़ी में पांच निजी स्कूल खोले जाएंगे। तिवारी ने बताया कि निवेशकों को उपलब्धता के आधार पर भूमि भी आवंटित की जाएगी। इस एमओयू को मिलाकर शिक्षा विभाग 1780 करोड़ रुपये के निवेश के एमओयू कर चुका है।

मुख्यमंत्री ने देर शाम फिर किया निरीक्षण

मुख्यमंत्री धामी ने गुरुवार देर शाम फिर एफआरआई पहुंचकर ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियों का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने मुख्य कार्यक्रम स्थल के साथ ही प्रदर्शनी स्थल का भी जायजा लिया। सीएम ने इन्वेस्टर्स समिट के तहत विभिन्न सेक्टरों के संबंध में तैयार किए गए सभाकक्षों समेत अन्य व्यवस्थाओं के बारे में भी मौके पर जाकर जानकारी ली। प्रदर्शनी स्थल पर औद्योगिक क्षेत्रों के विषयवार निवेश से संबंधित मॉडलों का भी सीएम ने निरीक्षण किया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें