DA Image
1 अगस्त, 2020|1:51|IST

अगली स्टोरी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के भाई पर दर्ज किया मुकदमा, पहले भी दर्ज हैं कई केस 

fir

पटेलनगर कोतवाली में सचिन उपाध्याय पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है। सचिन कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के भाई हैं। सचिन पर धनराशि लेकर प्लॉट पर कब्जा नहीं देने का आरोप है। सीओ सदर अनुज कुमार की जांच के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है।

डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने बताया कि जनवरी में पालम विहार गुड़गांव निवासी प्रमोद बडोनी ने प्रार्थना पत्र दिया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि 2011 में सचिन उपाध्याय ने दी ग्रीनस दून वैली प्रोजेक्ट शीशमबाड़ा में प्लॉट खरीदने के लिए प्रमोद बडोनी से संपर्क किया था। 

प्रमोद बडोनी ने प्लॉट बुक कराकर भुगतान किया था। लेकिन सचिन ने प्रमोद को प्लॉट पर कब्जा नहीं दिया। इस मामले की जांच सीओ सदर अनुज कुमार को सौंपी थी। जांच में पाया कि सचिन को प्रमोद बडोनी समेत अन्य लोगों ने एक करोड़ सात लाख 97 हजार एक सौ 28 रुपये का भुगतान किया लेकिन आरोपी पक्ष ने रजिस्ट्री नहीं कराई।

सूचना का अधिकार में लोगों ने जानकारी मांगी जिस पर पता चला कि प्रमोद को दिया गया प्लॉट किसी और के नाम पर दर्ज है। सचिन ने उक्त प्लॉटों को अन्य लोगों को बेच दिया। डीआईजी ने बताया कि सचिन उपाध्याय के खिलाफ धोखाधड़ी में मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

पहले भी दर्ज हैं केस
देहरादून। सीओ सदर की जांच में सामने आया कि सचिन उपाध्याय पर वर्ष 2014 में साकेत थाना साउथ दिल्ली में आरवी शर्मा निवासी पालम विहार गुड़गांव और वर्ष 2017 में मुकेश जोशी निवासी राजपुर देहरादून ने राजपुर थाने में जमीन धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है।  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:fraud case registered against congress former state president kishore upadhayay brother sachin upadhayay