DA Image
30 मार्च, 2021|12:52|IST

अगली स्टोरी

उत्तराखंड में सांप के काटने पर मिलेगा मुआवजा, जानें कितनी मिलेगी धनराशि

two innocent sisters died after drinking milk poisonous snake found in kitchen

उत्तराखंड में अब सांप के काटने से मौत होने पर वन विभाग मृतक आश्रितों को चार लाख मुआवजा देगा। जो कि अब तक तीन लाख था और लोग इसका क्लेम बेहद कम करते थे। सांप अगर घर में भी काटे तो घायल, अपंग या मौत होने पर मुआवजा क्लेम कर सकते हैं। गर्मियों में इस तरह की घटनाएं बढ़ने से ठीक पहले विभाग ने मानव वन्यजीव संघर्ष में मुआवजे के लिए नई गाइडलाइन जारी कर दी है। पीसीसीएफ की ओर से सभी डीएफओ और पार्क निदेशकों को इसका पालन करने के निर्देश दिए गए हैं। अब तक विभाग की ओर से मानव वन्यजीव संघर्ष में मृतक आश्रितों को तीन लाख मुआवजा दिया जा रहा है। जबकि सरकार इसे पहले ही चार लाख कर चुकी थी। अब विभाग ने नई दरें जारी कर दी हैं।

इन सूरतों में कर सकते हैं आवेदन : बाघ, तेंदुआ,हिम तेंदुआ, जंगली हाथी, सुअर,भालू, लकड़बग्घा, जंगली मगरमच्छ, घडियाल, सांप के आक्रमण से मृत्यु, घायल या विकलांग होने पर। बाघ, तेंदुआ, हिम तेंदुआ ,जंगली हाथी, भालू, लकड़बग्घा, जंगली सुअर, मगरमच्छ,घडियाल, सांप के पालतू पशुओं को मारे जाने पर। जंगली हाथी, जंगली सुअर, नील गाय, काकड, सांभर, चीतल तथा बन्दरों  के फसलें खराब करने पर। जंगली हाथियों के मकान क्षतिग्रस्त करने पर।

मानव क्षति में मुआवजा
साधारण रूप से घायल-15,000
गंभीर रूप से घायल-50,000
आंशिक रूप से अपंग-1,00,000
पूर्ण रूप से अपंग-2,00,000
मृत्यु-4,00,000

पशु क्षति पर मुआवजा
गाय, भैंस-30000, घोड़ा, खच्चर-40000, बैल-25,000, बछड़ी बछड़ा-16,000, बकरी,भेड़-3000

फसल क्षति पर मुआवजा
गन्ना-25,000 प्रति एकड़
धान, गेहूं, तिलहन-15,000 प्रति एकड़
बाकी फसलों के लिए 8,000 प्रति एकड़ 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:forest department to give monetary compensation in case of snake bite in uttarakhand