ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड53 साल में पहली बार चली इतनी लू, देहरादून में सबसे ज्यादा गर्म दिनों का भी टूटा रिकॉर्ड 

53 साल में पहली बार चली इतनी लू, देहरादून में सबसे ज्यादा गर्म दिनों का भी टूटा रिकॉर्ड 

मंगलवार को देहरादून में पारा 41.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सोमवार को दर्ज तापमान 43.1 से कम रहा। बावजूद इसके यहां लोगों ने लू झेली। इससे पहले 1995 में पूरे जून के महीने में गर्मी पड़ी थी।

53 साल में पहली बार चली इतनी लू, देहरादून में सबसे ज्यादा गर्म दिनों का भी टूटा रिकॉर्ड 
for first time in 53 years heat wave prevailed dehradun hottest days record broken
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तानWed, 19 Jun 2024 12:38 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड के कई शहरों में प्रचंड गर्मी पड़ रही है। चिंता की बात है कि गर्मी की वजह से लोगों का जमकर पसीना भी निकल रहा है। देहरादून में जून के महीने में सबसे ज्यादा गर्म दिनों का रिकॉर्ड भी इस बार टूट गया है। यही नहीं, देहरादून में 53 साल में पहली बार इतनी लू चली थी।

यहां पहली बार लोगों ने जून के महीने के 13 दिन लू के बीच काटे। इन 13 दिनों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक रहा। इससे पहले 1995 में 12 दिन तक देहरादून में पारा 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक रहा था। पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश के चलते बुधवार को दून में लू से राहत मिल सकती है।

मंगलवार को देहरादून में पारा 41.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सोमवार को दर्ज तापमान 43.1 से कम रहा। बावजूद इसके यहां लोगों ने लू झेली। इससे पहले 1995 में पूरे जून के महीने में कुल 12 दिन तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक रहा था।

तब 4 जून को दून का अधिकतम तापमान 43.7 डिग्री दर्ज किया गया था। जो 1902 के ऑलटाइम रिकॉर्ड (43.9 डिग्री सेल्सियस) से कम था। इस बार जून महीने में अभी तक सर्वाधिक तापमान सोमवार को 43.1 डिग्री दर्ज किया गया था।

31 मई को बना था ऑल टाइम रिकॉर्ड : इस बार मई महीने में सर्वाधिक तापमान का रिकॉर्ड भी बना था, जो दून में इस सीजन का सर्वाधिक तापमान भी रहा। बीती 31 मई को दून में पारा 43.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

उधर मसूरी में मंगलवार को कभी चटख धूप खिली तो कभी बादल छाए रहे। सुबह तक धूप के बाद करीब 11:30 बजे आसमान में बादल छा गए। दोपहर दो बजे बाद बादल छंट गए।

53 साल में पहली बार रही इतनी लू
मौसम विज्ञान केंद्र के पास उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक 1971 से लेकर 2023 तक किसी भी साल जून के महीने में 12 दिनों से ज्यादा दिन तक लू नहीं चली। दून का यह रिकॉर्ड भी वर्ष 2024 के नाम पर दर्ज हो गया है। मैदानी क्षेत्रों में 40 डिग्री से अधिक तापमान पर लू की स्थित बनती है। वर्ष 1995 को छोड़कर आमतौर पर जून के महीने में दून का तापमान तीन से चार दिन ही 40 से अधिक रहता था। लेकिन ऐसा भी पहली बार हुआ है कि इस महीने 11 दिन से तापमान लगातार 40 से अधिक रहा।