ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडकोरोना के बाद पहली बार नैनीताल में कहेंगे ‘हैप्पी न्यू ईयर’, लाइटिंग-म्यूजिक  के साथ यह रहेगा खास 

कोरोना के बाद पहली बार नैनीताल में कहेंगे ‘हैप्पी न्यू ईयर’, लाइटिंग-म्यूजिक  के साथ यह रहेगा खास 

कोरोना काल के बाद पहली बार नैनीताल की मालरोड पर हैप्पी न्यू ईयर का जश्न देखने को मिलेगा। होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन की ओर से इस बार मालरोड की सड़कों पर लाइटिंग के साथ ही जगह-जगह म्यूजिक भी होगा।

कोरोना के बाद पहली बार नैनीताल में कहेंगे ‘हैप्पी न्यू ईयर’, लाइटिंग-म्यूजिक  के साथ यह रहेगा खास 
Himanshu Kumar Lallनैनीताल। नवीन पालीवालSun, 10 Dec 2023 03:22 PM
ऐप पर पढ़ें

कोरोना काल के बाद पहली बार नैनीताल की मालरोड पर हैप्पी न्यू ईयर का जश्न देखने को मिलेगा। होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन की ओर से इस बार मालरोड की सड़कों पर लाइटिंग के साथ ही जगह-जगह म्यूजिक की व्यवस्था की जा रही है।

क्रिसमस तथा न्यू ईयर के लिए नैनीताल के होटलों में 70 प्रतिशत तक एडवांस बुकिंग हो चुकी है। वीकेंड होने की स्थिति में नैनीताल पैक रहेगा। बता दें कि नैनीताल की मालरोड पर पूर्व से ही लाइटिंग तथा म्यूजिक की व्यवस्थाएं की जाती थीं। लेकिन वर्ष 2020 में कोविड की दस्तक के बाद इस तरह के कार्यक्रम में रोक लग गई।

2021 में भी स्थितियां सामान्य नहीं थी। हालांकि लोगों ने इनडोर कार्यक्रम जरूर किए। वर्ष 2022 में मालरोड को सजाने तथा यहां म्यूजिक की व्यवस्था किए जाने के संबंध में पर्यटन कारोबारियों की ओर से जिला प्रशासन से अनुमति मांगी गई, लेकिन इस साल होटल एसोसिएशन की ओर से अभी से तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।

एसोसिएशन के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह बिष्ट ने बताया कि इस साल पूर्व की तर्ज पर मालरोड को लाइटिंग से सजाया जाएगा। जगह-जगह म्यूजिक की व्यवस्था की जाएगी। रात्रि 12 बजे पुराने साल को अलविदा एवं नए साल के स्वागत का जश्न मनाया जाएगा।उन्होंने बताया कि साज सज्जा एवं म्यूजिक की व्यवस्था 24 दिसंबर से दो जनवरी तक की जाएगी।

ट्रैफिक बनेगा चुनौती: नैनीताल में दिसंबर के आखिरी में शहर पैक रहेगा। ऐसे में ट्रैफिक व्यवस्था बनाना पुलिस के लिए चुनौतिपूर्ण साबित होने वाला है।

मालरोड में शिफ्ट लेकब्रिज चुंगी पर दिनभर रहा जाम
नैनीताल में जाम से निजात को लेकर तल्लीताल स्थित लेकब्रिज चुंगी को कुछ दूर आगे मालरोड पर शिफ्ट किया गया, लेकिन इससे लोगों को दिनभर जाम से जूझना पड़ा। हालांकि, फिलहाल जिला प्रशासन की ओर से इसका ट्रायल किया जा रहा है। जाम को देखते हुए पुन पूर्व के स्थान पर ही चुंगी का संचालन किया गया। एडीएम पीआर चौहान ने बताया ट्रायल किया गया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें