ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडचारधाम यात्रा में आस्था का सैलाब, एक महीने में 20 लाख से ज्यादा दर्शन, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

चारधाम यात्रा में आस्था का सैलाब, एक महीने में 20 लाख से ज्यादा दर्शन, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

चारधाम पर दर्शन जाने से पहले ऑनलाइन या ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है। पर्यटन विभाग के अनुसार, 2024 में अब तक चार मिलियन(40 लाख) से ज्यादा तीर्थ यात्रियों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है।

चारधाम यात्रा में आस्था का सैलाब, एक महीने में 20 लाख से ज्यादा दर्शन, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तानMon, 10 Jun 2024 08:32 PM
ऐप पर पढ़ें

10 मई से शुरू उत्तराखंड चारधाम में भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा है। गंगोत्री-बदरीनाथ समेत चारों धामों में दर्शन करने वाले तीर्थ यात्रियों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। पिछले एक महीने से चल रही चारधाम यात्रा में 20 लाख से ज्यादा भक्तजन अबतक दर्शन कर चुके हैं। 

पिछले साल की बात करें तो चारधाम यात्रा के शुभारंभ के एक महीने के अंदर सिर्फ 14 लाख श्रद्धालु दर्शन करने के लिए पहुंचे थे। सरकारी आंकड़ों पर नजर डालें तो पिछले साल यात्रा के पहले एक महीने में 2.3 लाख यमुनोत्री, 2.6 लाख गंगोत्री, 5 लाख केदारनाथ और 4.3 लाख बद्रीनाथ धाम में भक्तजन पहुंचे थे।

आपको बता दें कि चारधाम पर दर्शन जाने से पहले ऑनलाइन या ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है। पर्यटन विभाग के अनुसार, 2024 में अब तक चार मिलियन(40 लाख) से ज्यादा तीर्थ यात्रियों ने धामों में जाने के लिए अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है।

यात्रा रूट पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ को देखते हुए यात्रियों  को नियंत्रित करने के लिए सरकार ने कारगर नीति भी बनाई है। यात्रा रूट पर ऑनलाइन व ऑफलाइन रजिस्ट्रेश्न को बंद करने के साथ ही भीड़ प्रबंधन के लिए भी कदम उठाए गए हैं।

इस साल, 2024 में दो लाख से अधिक टैक्सियों, बसों, कारों समेत अन्य कमर्शियल गाड़ियों से यात्री उत्तराखंड पहुंच चुके हैं। तीथ यात्रियों की भारी भीड़ की वजह से यात्रा रूट पर अकसर ट्रैफिक जाम की भी स्थिति बन जाती है।  

ट्रैफिक कंट्रोल करने के लिए अतिरिक्त पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। चारों धामों में से यमुनोत्री धाम के लिए सबसे ज्यादा 28,555 से अधिक गाड़ियां पहुंची हैं, जबकि गंगोत्री मंदिर के लिए अब तक 29,916 गाड़ियों से लोग धाम को दर्शन करने के लिए पहुंचे हैं।

यात्रियों की भारी भीड़ और गाड़ियों के अत्यधिक दबाव के चलते प्रशासन की ओर से चारधाम यात्रा रूट पर गेट सिस्टम लागू किया है। यात्रा रूट पर पुलिस की ओर से बैरियर लगाकर यात्रियों को भी कंट्रोल किया जा रहा है। 

केदारनाथ धाम में सबसे ज्यादा पहुंचे तीर्थ यात्री 
चारों धामों में से केदारनाथ धाम में सबसे ज्यादा तीर्थ यात्री दर्शन करने को उत्तराखंड पहुंचे हैं। राज्य सरकार के आंकडों की बात मानें तो 10 जुलाई सोमवार शाम तक 2.18 मिलियन से अधिक तीर्थयात्रियों ने चार धाम मंदिरों के दर्शन किए हैं।

केदारनाथ धाम में सबसे ज्यादा 7.6 लाख और बदरीनाथ धाम में 4.8 लाख भक्तों ने दर्शन किए हैं। गंगोत्री धाम की बात करें तो अब तक 3.5 लाख लोग पहुंचे हैं और यमुनोत्री धाम में भी 3.5 लाख श्रद्धालुओं ने दर्शन किए हैं। 

यात्रा रूट पर अतिरिक्त पुलिस फोर्स-डॉक्टर तैनात-अलर्ट जारी
चाधाम यात्रा रूट पर तीर्थ यात्रियों की भारी भीड़ को देखते हुए सरकार ने एहतियातन जरूरी कदम उठाए हैं। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने अधिकारियों के साथ मीटिंग कर सतर्क रहने की सख्त हिदायत दी है, जिसके बाद पुलिस-प्रशासन अलर्ट मोड पर आ गया है।

यात्रा रूट पर भीड़ नियंत्रित करने के लिए अतिरिक्त पुलिस फोर्स तैनात किया गया है। तीर्थ यात्रियों के स्वास्थ्य के मद्देनजर अतिरिक्त डॉक्टर भी तैनात किए गए हैं। यात्रा रूट पर अतिरिक्त एंबुलेंस भी तैनात की गई है। 

चार धाम यात्रा के लिए ऐसे कराएं रजिस्ट्रेशन
बदरीनाथ, गंगोत्री, केदारनाथ समेत चार धाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालु पर्यटन विभाग की वेबसाइट registrationandtouristcare.uk.gov.in पर जाकर पंजीकरण कर सकते हैं। इसके साथ ही श्रद्धालु मोबाइल ऐप touristcareuttarakhand से भी पंजीकरण करा सकते हैं।

इसके अलावा पंजीकरण का एक और विकल्प व्हाट्सअप नंबर 8394833833 पर यात्रा टाइप कर पंजीकरण हो सकता है। टोल फ्री नंबर 01351364 नंबर पर भी पंजीकरण की सुविधा दी गई है।