DA Image
8 मई, 2021|12:52|IST

अगली स्टोरी

कोरोना संकट : रुड़की के अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने से पांच मरीजों की मौत

deadbody was hanged from the tank after killing a pregnant in pilibhit

रुड़की के निजी अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने से पांच मरीजों की मौत हो गयी। रातभर ऑक्सीजन को लेकर अस्पताल में अफरातफरी मची रही। प्रशासन ने मामले में जांच के आदेश दिए हैं। जेएम का कहना है कि मौत ऑक्सीजन की कमी से हुई या अन्य कारण रहे, इसकी जांच कमेटी करेगी। आजाद नगर चौक के निजी अस्पताल में कोविड के मरीजों का उपचार किया जा रहा है। यहां 85 बेड कोविड के मरीजों के लिए हैं। सभी बेड मरीजों से भरे हुए थे। सोमवार रात रात करीब सवा एक बजे अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म हो गयी।

अस्पताल प्रबंधन ने किसी तरह बीस सिलेंडर का इंतजाम किया लेकिन यह व्यवस्था भी ज्यादा देर नहीं टिक पायी। सुबह पौने चार बजे बजे यह ऑक्सीजन भी खत्म हो गयी। मरीजों के तीमारदार ऑक्सीजन के लिए इधर-उधर भटकने लगे। कई तीमारदार दूसरे अस्पतालों से संपर्क करने लगे। मरीजों के कई तीमारदार निजी अस्पताल के साथ मिलकर भी व्यवस्था में जुटे रहे। करीब आधे घंटे बाद फिर व्यवस्था हो पायी। इस बीच अस्पताल में अफरातफरी मची रही। 

अस्पताल प्रबंधन के सूत्रों के अनुसार इसी दौरान पांच मरीजों ने दम तोड़ दिया। इसमें एक वेंटीलेटर और चार ऑक्सीजन बेड पर थे। जेएम नमामि बंसल ने बताया कि अस्पताल में कोविड के 85 मरीज थे। पांच मरीजों की मौत की सूचना मिली है। बताया कि जांच के लिए डीएम ने एक कमेटी गठित की है। कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर ही तय हो पाएगा कि मौत ऑक्सीजन की कमी से हुई या दूसरे कारण थे। बताया कि अस्पतालों को पहले भी कहा गया है कि वह ऑक्सीजन के बारे में समय पर जानकारी दें।  
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Five patients died due to run out of oxygen in Roorkee hospital