ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडआज से हड़ताल पर रहेंगे इंजीनियर्स, मांगे पूरी नहीं होने तक काम का बहिष्कार; क्यों भड़के

आज से हड़ताल पर रहेंगे इंजीनियर्स, मांगे पूरी नहीं होने तक काम का बहिष्कार; क्यों भड़के

उत्तराखंड के सभी विभागों में कार्यरत इंजीनियर आज से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर रहेंगे। वेतन विसंगति सहित अन्य कई मांगों पर बैठक के बावजूद कोई कार्रवाई न होने से नाराज हैं।

आज से हड़ताल पर रहेंगे इंजीनियर्स, मांगे पूरी नहीं होने तक काम का बहिष्कार; क्यों भड़के
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,देहरादूनThu, 30 Nov 2023 11:58 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड के सभी विभागों में कार्यरत डिप्लोमा इंजीनियर गुरुवार से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर रहेंगे। वेतन विसंगति सहित अन्य कई मांगों पर कार्रवाई न होने से नाराज डिप्लोमा इंजीनियर महासंघ ने बुधवार को यह निर्णय लिया है। उत्तराखंड डिप्लोमा इंजीनियर महासंघ की उच्चाधिकार प्राप्त समिति की बुधवार को आपात बैठक हुई।

महासंघ के प्रांतीय अध्यक्ष एसएस चौहान ने कहा कि महासंघ की शासन के अधिकारियों के साथ कई बार की बैठकें हो चुकी हैं। लेकिन आज तक एक भी मांग पर कार्रवाई नहीं हो पाई है। उन्होंने कहा कि समस्याओं का समाधान न होने पर अनिश्चित कालीन कार्य बहिष्कार का निर्णय लिया गया है। विरोध प्रदर्शन किए जाएंगे। बैठक में महासंघ के महासचिव मुकेश रतूडी, अनिल पंवार, विरेन्द्र गुंसाई, शिवराज लोधियाल, शांतनु शर्मा, भरत डांगी, आरसी शर्मा मौजूद रहे।

महासंघ की शासन में 10 बार हो चुकी बैठक

बैठक के दौरान संघ के पदाधिकारियों ने कहा कि महासंघ की शासन के अधिकारियों के साथ 10 बार बैठकें हो चुकी हैं। लेकिन हैरानी की बात है कि इनके मिनट्स भी जारी नहीं हो पाए। इंजीनियरों की कई मांगों पर कई साल पहले सहमति बन चुकी है लेकिन आज तक उनके जीओ जारी नहीं हो पाए हैं।

रिकवरी और वेतन विसंगति पर भड़के इंजीनियर

महासंघ के महासचिव मुकेश रतूड़ी ने बताया कि विभिन्न विभागों में जेई को तैनाती के तीन साल बाद 4800 जबकि 10 साल में 5400 ग्रेड पे मिलता रहा है। लेकिन पिछले कुछ समय से इस भुगतान को गलत मानते हुए इंजीनियरों से रिकवरी की जा रही है। इसके अलावा जेई को काफी समय पहले व्हीकल एलाउंस के रूप में 1200 रुपए दिए जाने पर सहमति बनी थी। लेकिन आज तक इस संदर्भ में आदेश नहीं हो पाए हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें